13 सितंबर पूर्णिमा से शुरू होंगे श्राद्ध, जानें तिथि अनुसार किस दिन कौन सा श्राद्ध

By: Pushpendra Singh Shekhawat

Updated On:
10 Sep 2019, 05:34:46 PM IST

  • धृतियोग और सप्तभिषा नक्षत्र में श्राद्धपक्ष की शुरुआत भाद्रपद पूर्णिमा 13 सितंबर से

हर्षित जैन/ जयपुर। भाद्रपद पूर्णिमा 13 सितंबर को धृतियोग और सप्तभिषा नक्षत्र में श्राद्धपक्ष की शुरुआत होगी। इस दौरान जिस तिथि में पूर्वजों या परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु हुई है उसी तिथि को पितृपक्ष में उनका श्राद्ध किया जाएगा। ज्योतिषाचार्य पं.दामोदर प्रसाद शर्मा ने बताया कि शास्त्रानुसार पितृपक्ष में अपने पितरों सामथ्र्य के अनुरूप शास्त्र विधि से श्राद्ध करता है। उसे सभी दोषों से मुक्ति मिलती है।

शर्मा ने बताया कि यह आश्विन कृष्ण पक्ष पार्वण श्राद्ध होते हैं, जो अपराह्न व्यापिनी की तिथि में निकाले जाते हैं। इस बार यह समय दोपहर 1.33 बजे से 3.55 बजे तक के बीच रहेगा। इस समय में जो तिथि रहेगी उसका श्राद्ध निकाला जाएगा। आश्विन कृष्णपक्ष अमावस्या 28 सितंबर तक सोलह दिनों तक श्राद्धपक्ष की अवधि रहेगी। 13 सितंबर को पूर्णिमा, 14 सितंबर को एकम का, 15 सितंबर को द्वितीया का श्राद्ध रहेगा। 16 सितंबर को कोई श्राद्ध नहीं रहेगा। इस समयावधि में सर्वार्थसिद्धि योग सहित अन्य योग भी आएंगे, जिसमें खरीददारी की जा सकती है।


पंचबलि से श्राद्ध निकालना महत्वपूर्ण

पितरों के निमित्त याद करने का अनुष्ठान करने के बाद श्राद्ध निकाला जाएगा। इसमें सबसे पहले पंचबलि से ग्रास निकाले जाते हैं। ज्योतिषाचार्य पं.पुरुषोत्तम गौड़ ने बताया कि गाय, श्वान, कौवे, देवताओं, चीटियों के लिए ग्रास निकाले जाते हैं। श्राद्ध निकालने के बाद संकल्प बोलकर पूर्वजों को नाम लें। फिर जल छिड़के। ग्रास संबंधित या ब्राह्मण को देकर भोजन करवाएं। वस्त्र, अन्नदान देकर आर्शीवाद लें।

तिथि अनुसार श्राद्ध कर्म

13 सितंबर : पूर्णिमा श्राद्ध

14 सितंबर : एकम का श्राद्ध

15 सितंबर : द्धितीया का श्राद्ध

16 सितंबर : कोई श्राद्ध नहीं

17 सितंबर : तृतीया का श्राद्ध

18 सितंबर : चतुर्थी का श्राद्ध और बरणी का श्राद्ध

19 सितंबर : पंचमी का श्राद्ध और कृतिका का श्राद्ध

20 सितंबर : षष्ठी का श्राद्ध

21 सितंबर : सप्तमी का श्राद्ध

22 सितंबर : अष्टमी का श्राद्ध

23 सितंबर : नवमी का श्राद्ध और सौभाग्यवतिनाम श्राद्ध

24 सितंबर : दशमी का श्राद्ध

25 सितंबर : एकादशी, द्वादशी का श्राद्ध

26 सितंबर : त्रयोदशी का श्राद्ध और मघा का श्राद्ध

27 सितंबर : चर्तुदर्शी

28 सितंबर : सर्वपितृ अमावस्या

Updated On:
10 Sep 2019, 05:34:46 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।