कल से चार महीने तक नहीं होंगे मांगलिक कार्य

By: Devendra Singh

Published On:
Jul, 11 2019 12:47 PM IST

 
  • 12 जुलाई से अगले 4 महीनों तक मांगलिक कार्य नहीं होंगे

जयपुर। 12 जुलाई को देवशयनी एकादशी (Devashani Ekadashi) श्रद्धा और भक्ति के साथ मनाई जाएगी। इस दिन गोविन्द देव जी मंदिर सहित सभी मंदिरों में धार्मिक आयोजन होंगे। वहीं कई जगहों पर विवाह के आयोजन होंगे। देव शयन (devshayan) के साथ ही मांगलिक कार्यो पर रोक लग जाएगी। 12 जुलाई से अगले 4 महीनों तक मांगलिक कार्य नहीं होंगे। देवशयनी एकादशी से चातुर्मास (chaturmas) भी शुरू हो जाएगा। पुराणों के अनुसार इन 4 महीनों में भगवान विष्णु योग निद्रा में रहते हैं। इसके बाद कार्तिक मास में शुक्ल पक्ष की एकादशी पर भगवान विष्णु की योग निद्रा पूर्ण होती है। इस एकादशी को देवउठानी एकादशी और प्रबोधिनी एकादशी कहा जाता है। इस दिन से ही मांगलिक कार्य शुरू हो जाते हैं। चातुर्मास में साधु, संत एक स्थान पर रहकर भगवान की उपासना और स्वाध्याय करते हैं। चातुर्मास के दौरान भगवान की पूजा-पाठ, कथा, साधना, अनुष्ठान से सकारात्मक ऊर्जा मिलती है। चातुर्मास में पूजा, पाठ, भजन, कीर्तन, सत्संग, कथा, भागवत के लिए श्रेष्ठ समय माना जाता है।

Published On:
Jul, 11 2019 12:47 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।