चुनावी तरकश में नया तीर

By: vinay sharma

Updated On:
12 Jun 2019, 12:14:05 PM IST

 
  • लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से मात खाई कांग्रेस पार्टी ने अब चुनावी तरकश से नया तीर निकाला है। प्रदेश के 193 शहरी निकायों के वार्डों का परिसीमन किया जा रहा है। परिसीमन की इस कार्रवाई के बाद सभी वार्डों में निर्वाचित प्रतिनिधि यानी वार्ड मेम्बर बढ़ जाएंगे। प्रदेश के सभी नगर निगमों, नगर परिषदों और नगरपालिका क्षेत्रों की आबादी को आधार बनाकर नए वार्ड तय किए गए हैं। माना जा रहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार नए वार्ड बनाकर न केवल असंतुष्ट पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनाव मैदान में उतरने का मौका देंगी बल्कि शहरी निकायों पर कब्जा करने का प्रयास भी करेगी। फिलहाल अधिकतर शहरी निकाय भाजपा के पास है। लोकसभा चुनाव के तत्काल बाद इस कवायद पर भारतीय जनता पार्टी ने सवाल खड़े किए हैं। भाजपा का आरोप है कि पहली बार सरकार निकायों के स्तर पर परिसीमन करने जा रही है जबकि पहले यह काम जिला कलक्टरों के मार्फत होता था। आपको बता दें कि कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में निकाय प्रमुखों का चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से कराने का वादा किया था। इस वादे के अनुरूप अब मेयर, सभापति व अध्यक्षों का चुनाव सीधे मतदाता करेंगे।

लोकसभा चुनाव में बुरी तरह से मात खाई कांग्रेस पार्टी ने अब चुनावी तरकश से नया तीर निकाला है। प्रदेश के 193 शहरी निकायों के वार्डों का परिसीमन किया जा रहा है। परिसीमन की इस कार्रवाई के बाद सभी वार्डों में निर्वाचित प्रतिनिधि यानी वार्ड मेम्बर बढ़ जाएंगे। प्रदेश के सभी नगर निगमों, नगर परिषदों और नगरपालिका क्षेत्रों की आबादी को आधार बनाकर नए वार्ड तय किए गए हैं। माना जा रहा है कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार नए वार्ड बनाकर न केवल असंतुष्ट पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनाव मैदान में उतरने का मौका देंगी बल्कि शहरी निकायों पर कब्जा करने का प्रयास भी करेगी। फिलहाल अधिकतर शहरी निकाय भाजपा के पास है। लोकसभा चुनाव के तत्काल बाद इस कवायद पर भारतीय जनता पार्टी ने सवाल खड़े किए हैं। भाजपा का आरोप है कि पहली बार सरकार निकायों के स्तर पर परिसीमन करने जा रही है जबकि पहले यह काम जिला कलक्टरों के मार्फत होता था। आपको बता दें कि कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में निकाय प्रमुखों का चुनाव प्रत्यक्ष प्रणाली से कराने का वादा किया था। इस वादे के अनुरूप अब मेयर, सभापति व अध्यक्षों का चुनाव सीधे मतदाता करेंगे।

Updated On:
12 Jun 2019, 12:14:05 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।