गिड़गिड़ाता रहा पति, डॉक्टरों ने 12 घंटे बाद ली सुध

By: Tasneem Khan

Updated On:
24 Aug 2019, 07:38:45 PM IST

 
  • गिड़गिड़ाता रहा पति, डॉक्टरों ने 12 घंटे बाद ली सुध

जयपुर। ये हैं कोटा के रामवतार, जो 12 घंटों तक अपनी कैंसर पीड़ित पत्नी को लेकर अस्पताल के बाहर गिड़गिड़ाते रहे। रोते और हाथ जोड़ते वो डॉक्टरों से उसे देख लेने की अर्ज करते तो दूसरे ही पल तिरस्कार के बाद पत्नी के पास आ बैठते। करीब 58 साल के रामवतार 12 घंटों तक ऐसे ही चक्कर काटते रहे। उसके बाद भी डॉक्टरों ने पीड़िता की सुध नहीं ली, जिसका हीमोग्लोबिन गिरकर साढे पांच ग्राम ही रह गया। पत्नी को गंभीर हालत में रामवतार ने जिला रामपुरा अस्पताल में भर्ती कराया, जहां से पीड़िता को कोटा के एमबीएस अस्पताल रैफर कर दिया गया। मामले में पत्रिका की दखल के बाद पीड़िता को इमरजेंसी में भर्ती किया गया और सीनियर डॉक्टर सुध लेने पहुंचे।

दरअसल स्टेशन क्षेत्र के रोटेदा रोड पर सिद्धि टाउन निवासी कैंसर पीड़िता आशा के हीमोग्लोबिन गिरने के बाद हालत बिगड़ गई। 22 अगस्त को दोपहर 12 बजे महिला मरीज को एमबीएस में भर्ती किया गया। उसे महिला मेडिकल डी वार्ड में शिफ्ट किया गया। वार्ड में बेड खाली नहीं होने के कारण बैंच पर लेटाकर उसे एक यूनिट ब्लड चढ़ाया गया। बेड की परेशानी को देखते हुए रात करीब 12 बजे नर्सिंग स्टाफ ने मरीज को घर ले जाने की सलाह देते हुए सुबह जल्दी आने को कहा।इसके बाद मरीज को रामवतार घर ले गए। दूसरे दिन जब सुबह 8 बजे वापस अस्पताल लेकर पहुंचे तो नर्सिंग स्टाफ ने मरीज को फरार बताते हुए भर्ती करने से इनकार कर दिया। महिला का पति अस्पताल में इधर से उधर चक्कर काटता रहा, लेकिन उनकी किसी ने नहीं सुनी। बाद में नर्सिंग स्टाफ के कुछ लोगों ने दुबारा भर्ती टिकट बनवाने की सलाह दी। दोपहर 12 बजे उन्होंने रजिस्ट्रेशन काउंटर से पर्ची कटवाई और ओपीडी में डॉक्टर को दिखाया। डॉक्टर ने मरीज को ओपीडी में लाने की बात कही, जबकि महिला के पति ने कहा कि मरीज की हालत गंभीर है, ओपीडी में नहीं ला सकते हैं। इस बीच महिला मरीज वार्ड में लेटी रही। इसके चलते शाम तक उसके ब्लड नहीं चढ़ा और न उसे चिकित्सकों ने देखकर इलाज किया। पत्रिका को जानकारी मिलने के बाद अस्पताल में डॉ. निर्मल शर्मा को मामले की जानकारी दी गई। उन्होंने गम्भीरता से लेते हुए मरीज को भर्ती करवाया और इलाज शुरू किया।

Updated On:
24 Aug 2019, 07:38:45 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।