राजस्थान में पेट्रोल-डीज़ल में VAT कटौती का फ़ायदा उठा रहे पडोसी राज्य, सस्ते दामों में ऐसे बिक रहा तेल

nakul devarshi

Publish: Sep, 12 2018 02:20:50 PM (IST)

जयपुर।

राजस्थान में पेट्रोल-डीज़ल पर वैट में कटौती का फ़ायदा न सिर्फ प्रदेशवासियों को मिल रहा है, बल्कि पडोसी राज्य भी इस छूट को भुना रहे हैं। दरअसल, राजस्थान से सटे मध्य प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में पेट्रोल-डीज़ल कीमतों में कमी का फायदा उठाया जा रहा है।

 

जानकारी के अनुसार राजस्थान में पेट्रोल-डीज़ल के दामों में आई कमी मध्य प्रदेश के नीमच और आस-पास के क्षेत्रवासियों के लिए किसी खुशखबरी से कम नहीं हैं। जहां एक ओर पूरे देशभर में पेट्रोल और डीजल के लगातार बढ़ते दामों को लेकर हाय तौबा मची हुई है, वहीं नीमच जिले के राजस्थान से लगे क्षेत्रवासियों को भी इसका लाभ मिल रहा है। अब वे भी लगभग साढ़े चार रुपए तक पेट्रोल सस्ता ले रहे हैं।

 

गौरतलब है कि इस बात को लेकर हमेशा से मांग उठती रही है कि देश के सभी राज्यों में एक समान पेट्रोल और डीजल की दर होनी चाहिए। अलग-अलग राज्यों में वेट होने से पेट्रोल और डीजल के दामों में भी काफी अंतर रहता है। इसी का उदाहरण नीमच से मात्र 4 किलोमीटर दूर देखने को मिल रहा है।

 

पेट्रोल और डीजल के लगातार बढ़ते दामों के विरोध को ध्यान में रखते हुए राजस्थान में वेट पर 4 प्रतिशत की कटौती हुई थी। इसका सीधा सीधा असर पेट्रोल और डीजल के दामों पर पड़ा था। राजस्थान के चित्तौडग़ढ़ में वेट कम होते ही दाम पेट्रोल 82.93 और डीजल 76.78 रुपए हो गया है। वहीं मध्य प्रदेश के नीमच में पेट्रोल लगभग 87.41 रुपए, डीजल 77.63 तथा पॉवर पेट्रोल 90.31 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है।

 

चित्तौडग़ढ़ की रेट ही नीमच जिले से लगी राजस्थान सीमा के पेट्रोल पम्पों पर भी लागू है। इस तरह से देखा जाए तो नीमच से मात्र 4 किलोमीटर की दूरी पर छोटी सादड़ी रोड पर लोगों को मात्र 4.48 रुपए पेट्रोल सस्ता मिल रहा है। हालांकि डीजल में ज़रूर मात्र लगभग 85 पैसे का ही अंतर देखा जा रहा है। इस बात को नीमच जिले के पेट्रोल पम्प संचालक भी अच्छी तरह समझते हैं। उन्हें भी पता है कि राजस्थान में वेट कम होने से पेट्रोल और डीजल के दाम कम होने से बड़े व्यापारी और ठेकेदार अब राजस्थान से डीजल और पेट्रोल लेना अधिक उपयुक्त समझेंगे।

 

मध्यप्रदेश की तुलना में राजस्थान में सस्ता ईंधन
राजस्थान सरकार ने पेट्रोल और डीजल के लगातार बढ़ते दामों को दृष्टिगत रखते हुए 4 प्रतिशत वेट कम किया है। इससे राजस्थान में पेट्रोल और डीजल मध्यप्रदेश की तुलना में सस्ता हो गया है। यह बात सही है कि जिन लोगों के यहां पेट्रोल और डीजल की प्रतिमाह अत्यधिक खपत होती है वे नीमच से लगे राजस्थान क्षेत्र से पेट्रोल व डीजल भरवाना अधिक पसंद करेंगे।
- दीपेंद्र भटनागर, कहाली पेट्रोल पम्प संचालक

 

... और इधर, पेट्रोल-डीज़ल को लेकर आई ये खबर
देश में पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों में बुधवार को आखिरकार 28 दिन के लम्बे समय के बाद ब्रेक लगा। तेल कंपनियों ने दोनों ईंधनों में कोई बदलाव नहीं किया। मंगलवार को महाराष्ट्र के नांदेड जिले के दो पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल की कीमत 91.02 रुपये प्रति लीटर रही। दोनों जगहों पर डीजल 78.94 रूपए प्रति लीटर पर पहुंच गया। इनमें एक पेट्रोल पंप जिले के धर्माबाद में और एक कारेगाँव में है।

 

नांदेड़ जिले के ही कई अन्य स्थानों पर तथा परभणी जिले में कई पेट्रोल पंपों पर पेट्रोल 90 रूपए तथा डीजल 78 रूपए प्रति लीटर के पार रहा। चार सप्ताह में एक बार भी इनके दाम नीचे नहीं हुए जबकि इस दौरान कई मौकों पर कच्चे तेल में गिरावट तथा डॉलर की तुलना में रुपये में मजबूती भी रही है।

 

आखिरी बार पेट्रोल-डीजल की कीमत 13 अगस्त को घटाई गई थी। इसके बाद अधिकतर मौकों पर इसमें तेजी रही जबकि गिने-चुने दिनों में इनमें स्थिरता रही है। दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 80.87 रुपए प्रति लीटर पर स्थिर रही। मुंबई में पेट्रोल 88.26 रुपए, कोलकाता में 83.75 रुपए और चेन्नई में 84.05 रुपए प्रति लीटर पर टिका रहा।

 

डीजल का दाम दिल्ली में 72.97 रुपए ,मुंबई में 77.47 रुपए, कोलकाता 75.82 रुपए और चेन्नई में 77.13 रुपए प्रति लीटर रहा। पेट्रोल और डीजल के दाम में 16 अगस्त से लेकर 11 सितंबर तक लगातार बढ़ोतरी का रुख रहा। इस दौरान दिल्ली में पेट्रोल की कीमत में 3.63 रुपए और डीजल के दाम 4.25 रुपए प्रति लीटर बढ़े।

More Videos

Web Title "Madhya Pradesh taking benefit from Rajasthan Petrol Diesel VAT"

Rajasthan Patrika Live TV