विदेशी पर्यटकों के इंतजार में ये देश

By: Kiran Kaur

Updated On:
25 Aug 2019, 01:02:00 AM IST

  • ये दुनिया के ऐसे देश हैं जहां पर बहुत कम टूरिस्ट आते हैं और इन्हें पर्यटकों का इंतजार है ताकि अपने आर्थिक हालातों को सुधार सकें।

ट्रेवल जगत पूरी दुनिया में तरक्की कर रहा है। समय- समय पर दुनिया के टॉप डेस्टिनेशंस की सूची भी जारी होती रहती हैं लेकिन क्या आपने ऐसे देशों के बारे में सुना है, जहां नाममात्र ही टूरिस्ट पहुंचते हैं।
दक्षिण प्रशांत क्षेत्र में बिखरे 100 से अधिक छोटे द्वीपों के साथ, तुवालु देश दुनिया के सबसे अलग देशों में से है। यहां के केवल मुख्य द्वीप, फनाफुटी में एक हवाई अड्डा है। यहां से, यात्री फेरी के द्वारा बाहरी समुदायों की अपनी यात्रा जारी रखते हैं। फिजी जैसे लोकप्रिय गंतव्यों में समुद्र तटों को भरने वाली भीड़ से मुक्त ये द्वीप एक अनुपयोगी आश्रय स्थल हैं, जहां आप मछलियों को पानी में तैरते हुए देख सकते हैं, एक आलसी की तरह दो पेड़ों के बीच में लटके खटोले पर लेटे हुए पूरा दिन बिता सकते हैं।
सिएरा लियोन: सिएरा लियोन में वर्ष 2016 में 54 हजार लोगों ने विजिट किया। कई तरह की समस्याओं की वजह से टूरिस्ट इस पश्चिमी अफ्रीकी देश से दूरी बनाए रखते हैं। लेकिन जो भी पर्यटक यहां आते हैं वे कभी निराश नहीं होते क्योंकि यहां के खूबसूरत बीच उनका मन मोह लेते हैं। वाइल्ड लाइफ को करीब से देखना चाहते हैं तो सिएरा लियोन आपको पुकार रहा है। यहां प्राइमेट सेंचुरी से लेकर नेशनल पार्क भी हैं, जहां पर आप कोलोबस और डियाना मंकी जैसे संकटापन्न जीवों को भी देख सकते हैं।
टोंगा में गुफा की खूबसूरती: टोंगा को देखने के लिए वर्ष 2016 में 62 हजार लोग आए। अगर आप टोंगा जाते हैं तो पेंगईमोटू बीच जाना न भूलें। नाव के जरिए टोंगा की राजधानी से यहां पहुंचा जा सकता है। यहां की अनाहुलू गुफा अद्भुत है, जो कि 400 मीटर लंबी है और यहां स्वच्छ पानी के कई पूल हैं। इन पूलों में आप आराम से तैराकी का आनंद ले सकते हैं।

सोलोमन आईलैंड: सोलोमन आईलैंड को दो साल पहले सिर्फ 26 हजार पर्यटक देखने के लिए आए। सोलोमन द्वीप, दक्षिण प्रशांत क्षेत्र में सैकड़ों द्वीपों का एक देश है। यह स्कूबा डाइविंग के लिए बेहतरीन स्थान है। सोलोमन के मुंडा और गीजो आईलैंड में डाइविंग का आनंद लेते हुए आप मंत्रा रेज, शार्क, कछुए देख सकते हैं।

Updated On:
25 Aug 2019, 01:02:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।