एक बगुले ने वायुसेना को लगाई 45 करोड़ रुपए की चपत

By: vinay sharma

Updated On:
31 Jul 2019, 08:54:48 AM IST

  • एक बगुला क्या कर सकता है। क्या आपने कभी सोचा है। नहीं ना, तो हम आपको बताते है। कैसे एक बगुले ने भारतीय वायुसेना को 45 करोड़ रुपए की चपत लगा दी।

एक बगुला क्या कर सकता है। क्या आपने कभी सोचा है। नहीं ना, तो हम आपको बताते है। कैसे एक बगुले ने भारतीय वायुसेना को 45 करोड़ रुपए की चपत लगा दी। दरअसल जोधपुर वायुसेना स्टेशन पर रूटीन फ्लाइट के बाद नीचे उतर रहे सुखोई 30 एमकेआई लडाकू विमान से एक बगुला टकरा गया। और विमान के इंजन में फंस गया। इससे सुखोई का बायां इंजन हाथों हाथ बंद हो गया। गनीमत रही कि सुखोई में दो इंजन होने के कारण पायलट दाएं इंजन से सुरक्षित नीचे उतरा। विमान के नीचे उतरने के बाद वायुसेना के कई अधिकारी मौके पर पहुंचे। और पायलट और विमान की जांच की। अब जांच के बाद पता चला है कि दुर्घटनाग्रस्त सुखोई की ब्लेड्स के साथ इंजन का मुख्य हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया। इंजीनियर्स ने इंजन बदलने की सिफारिश की है, जिसका खर्चा करीब 45 करोड़ रुपए आएगा। वायुसेना के अनुसार रात को रन-वे पर उतरने के दौरान विमान की आवाज से घबराकर नाले के पास बैठा बगुला उड़ा और इंजन में फस गया। विमान की गति 200 किलोमीटर प्रति घण्टा थी। बगुला घुसने और इंजन बंद होने से विमान तेजी से घूम गया और नीचे आने लगा। पायलट ने विमान को तुरंत दूसरे इंजन पर लिया और संभाला। और कुछ सैकेण्ड में ही सुरक्षित लैंडिंग हो गई। अब यह सुखोई फिलहाल ग्राउण्डेड हो गया है। जिसे दुरुस्त होकर आने में छह से आठ महीने लगेंगे।

Updated On:
31 Jul 2019, 08:54:48 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।