झपट्टा मार गैंग ने छह लोगों ने छीना मोबाइल-चेन

By: RAJESH MEENA

Published On:
Jul, 11 2019 10:51 AM IST

 
  • झपट्टा मार गैंग ने छह लोगों ने छीना मोबाइल-चेन

झपट्टा मार गैंग ने छह लोगों ने छीना मोबाइल-चेन
जयपुर। शहर में झपट्टा मार गैंग ने आमजन का सुख-चैन छीन रखा है। गैंग के सदस्यों ने आधा दर्जन लोगों से मोबाइल व सोने की चेन छीन ली। इन सभी मामलों में पुलिस बदमाशों की धरपकड के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है।
मुरलीपुरा थाना इलाके में विजयबाडी निवासी सत्यनारायण ने मामला दर्ज करवाया कि वह सीकर रोड पर मोबाइल पर बात करते जा रहा था इसी दौरान बाइक पर सवार होकर तीन बदमाश आए और उसके हाथ पर झपट्टा मार कर मोबाइल छीनकर ले गए। इस अप्रत्याशित घटना में पीडि़त कुछ समझ पाता तब तक बदमाश तेज गति से बाइक चलाते हुए गलियों में ओझल हो गए।
ब्रह्मपुरी थाना इलाके में बाइक सवार बदमाश दो युवकों के हाथ से मोबाइल छीनकर ले गए। पुलिस के अनुसार झूले लाल कॉलोनी निवासी कमलेश ने मामला दर्ज कराया कि वह धोबीघाट पर खड़ा था। इसी दौरान बाइक सवार बदमाश आया और उसके हाथ से मोबाइल छीनकर ले गए। वहीं गलतागेट निवासी चेतन कुमार ने मामला दर्ज करवाया कि वह किसी काम से गोविंदनगर आया था यहां पर बाइक सवार दो बदमाश उसके हाथ पर झपट्टा मार कर मोबाइल छीनकर ले गए।
बजाज नगर में भी बाइक सवार बदमाशों ने दो लोगों को अपना शिकार बनाया है। पुलिस के अनुसार जय अम्बे नगर निवासी आनंद गुप्ता ने मामला दर्ज करवाया कि वह किसी काम से इंद्रा नगर गया था वहां पर पीछे से बाइक सवार दो बदमाश आए और उसके हाथ से मोबाइल छीनकर ले गए। दूसरी घटना में गलतागेट निवासी बंटू भगत ने मामला दर्ज करवाया कि वह लक्ष्मीमंदिर चौराहे पर खड़ा था इसी दौरान बाइक सवार बदमाश आया और उसके हाथ से मोबाइल छीन कर ले गया।
हरमाडा थाना इलाके में अपना आंगन कॉलोनी निवासी धर्मवीर ने मामला दर्ज करवाया कि उसकी पत्नी बाजार में दूध लेने गई थी । पीछे से बाइक सवार दो बदमाश आए और उसके गले पर झपट्टा मार कर सोने की चेन तोड़कर ले गए।

Published On:
Jul, 11 2019 10:51 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।