बीड़ी व्यापारी बनकर नक्सली इलाके में गई जयपुर पुलिस, माल का आर्डर देने के बहाने दबोचा शातिर ठग

By: Pushpendra Singh Shekhawat

Published On:
Jun, 11 2019 09:49 PM IST

  • बीड़ी पत्ता के व्यापारी बन पुलिस टीम ने आरोपी को लिया घेरे में

धीरेन्द्र भट्टाचार्य / जयपुर। सांगानेर थाना पुलिस कपड़े की दलाली के नाम पर एक दर्जन व्यापारियों से लाखों रुपए की ठगी करने के मामले में पांच साल से फरार शातिर ठग को महाराष्ट्र के नक्सली इलाके से गिरफ्तार कर मंगलवार को जयपुर ले आई है। इस शातिर ठग की गिरफ्तारी पर पांच हजार का इनाम भी घोषित था। फरारी के मामले में पुलिस ने आरोपी के परिवार वालों को भी शक के दायरे में लिया है।


डीसीपी पूर्व, राहुल जैन ने बताया कि बजाज नगर के महावीर नगर प्रथम निवासी राजेंद्र कुमार बोथरा के खिलाफ वर्ष 2014 में सांगानेर के व्यापारी भगवती प्रसाद और विनोद सहित करीब एक दर्जन व्यापारियों ने कपड़े की दलाली के नाम पर लाखों रुपए की ठगी कर लेने का मामला दर्ज करवाया था। रिपोर्ट दर्ज होने साथ ही राजेंद्र फरार हो गया था। लंबे समय से फरार रहने पर पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर पांच हजार रुपए का इनाम भी घोषित किया। शातिर ठग की तलाश में एडीसीपी ललित शर्मा और एसीपी पूनमचंद विश्नोई की टीम गठित की गई।

 

परिजनों ने करवाई गुमशुदगी
एसीपी पूनमचंद ने बताया कि पुलिस को गुमराह करने के लिए राजेंद्र के परिजनों ने बजाज नगर थाने में उसकी गुमशुदगी का मामला भी दर्ज करवाया, लेकिन पुलिस को शक होने पर टीम ने परिवार वालों पर भी लगातार निगाह रखी। इस दौरान पुलिस टीम को राजेंद्र के महाराष्ट्र के गढ़चिरोली और छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा की सीमा पर होने की जानकारी मिली।

 

व्यापारी बन गया पुलिस दल
नक्सली इलाके में राजेंद्र के मुनीम का काम करने की सटीक जानकारी मिलने पर पुलिस दल बीड़ी व्यापारी बन गढ़चिरोली गया, जहां माल का आर्डर देने के नाम पर पुलिस दल ने राजेंद्र से संपर्क किया और उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने फरारी के दौरान कोलकाता से जाली पहचान पत्र बानाने की जानकारी भी दी, जिसके आधार पर वह नेपाल और झारखंड में भी कई माह रहा।

Published On:
Jun, 11 2019 09:49 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।