नाहरगढ़ जैविक उद्यान: दिल्ली से मंगलवार को आएगा नया मेहमान, 22 दिन बाद देख पाएंगे आमजन

By: kamlesh sharma

Published On:
Aug, 12 2019 10:10 PM IST

  • शहर में दरियाई घोड़ा लाने की वन विभाग की डेढ़ दशक पुरानी कोशिश अब रंग लाई है।

देवेन्द्र सिंह राठौड़/जयपुर। शहर में दरियाई घोड़ा लाने की वन विभाग की डेढ़ दशक पुरानी कोशिश अब रंग लाई है। मंगलवार को सुबह दिल्ली के चिडिय़ाघर से एक्सचेंज के तहत एक नर दरियाई घोड़ा जयपुर के नाहरगढ़ जैविक उद्यान में पहुंच जाएगा। खासबात हैं कि प्रदेश में एग्जोटिक पार्क ही एकमात्र ऐसा स्थान होगा। जहां सैलानी दरियाई घोड़ा देख पाएंगे।

वन्यजीव चिकित्सक अशोक तंवर के नेतृत्व में वन विभाग की टीम सोमवार देर रात उसे लेकर दिल्ली से रवाना हुई है। इधर नाहरगढ़ जैविक उद्यान में भी तैयारियां पूरी कर ली गई है।

एसीएफ जगदीश गुप्ता ने बताया कि यहां दरियाई घोड़े का जोड़ा लाया जाना है। जिसमें फिलहाल नर दरियाई घोड़े को लेकर टीम यहां मंगलवार सुबह पांच बजे पहुंच जाएगी। हालांकि मादा दरियाई घोड़े को संभवत: अगले सप्ताह तक लाया जाएगा।

दरियाई घोड़े को एग्जोटिक पार्क में रखा जाएगा। वहां उसके आवास व भोजन के इंतजाम किए गए है। साथ ही उसे गर्मी और उमस से राहत मिले। इसके लिए कच्ची व पक्की पानी की तलाई भी बनाई गई है। हालांकि सैलानियों को उसका दीदार करने में 22 दिन तक इंतजार करना पड़ेगा।

सफारी की तर्ज पर डवलप हुआ पार्क
-26 हैक्टेयर क्षेत्र में बने एग्जोटिक पार्क को सफारी की तर्ज पर विकसित किया गया है। यहां सैलानी गाड़ी में बैठकर वन्यजीव देखेंगे। हालांकि इसके लिए अभी इंतजार करना पड़ेगा। यहां अगल-अलग रूट भी बनाए गए है। यहां दरियाई घोड़े के अलावा यहां ऐमू, शुतुरमुर्ग, जेब्रा समेत कई अन्य वन्यजीव लाने की कवायद तेज हो गई है। वे भी जल्द यहां नजर आएंगे।

Published On:
Aug, 12 2019 10:10 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।