प्रदेश के इन जिलों में मूसलाधार बारिश, माही बांध के 16 गेट खोले, पूर्वी राजस्थान में भारी बारिश के आसार

By: rohit sharma

Updated On:
10 Sep 2019, 08:25:36 PM IST

  • Heavy Rain Warning in Rajasthan : राजस्थान के कई जिलों में एक फिर Monsoon सक्रिय हो गया है। कई जिलों में झमाझम बारिश का दौर जारी है। प्रदेश के Banswara, Jhalawar में अच्छी बारिश हुई। वहीं, IMD की मानें तो अगले 48 घंटों में पूर्वी राजस्थान में भारी बारिश के आसार हैं।

जयपुर। राजस्थान के कई जिलों में एक फिर मानसून ( Monsoon 2019 ) सक्रिय हो गया है। कई जिलों में झमाझम बारिश ( Rain in Rajasthan ) का दौर जारी है। साथ ही प्रदेश के बांध में पानी की आवक भी बढ़ने लगी है। प्रदेश के बांसवाड़ा, झालावाड़ में अच्छी बारिश हुई। वहीं, मौसम विभाग ( IMD ) की मानें तो अगले 48 घंटों में पूर्वी राजस्थान में भारी बारिश के आसार हैं।

देर रात से ही जारी बारिश ( Heavy Rain in Banswara )
बांसवाड़ा जिले के मौसम की बात करें तो यहां पिछले दिनों गर्मी और उमस से हाल बेहाल था। वहीं, सोमवार देर रात से ही जिला मुख्यालय सहित कई ग्रामीण इलाकों में अच्छी बारिश हुई। देर रात से जारी अच्छी बारिश का यह दौर मंगलवार सुबह भी जारी रहा। काले घने बादलों की गर्जना के बीच बारिश का दौर शुरू हुआ, जो दोपहर तक बना हुआ है।

संभाग के सबसे बड़े माही बांध में अच्छी बारिश के चलते जिले सहित मध्यप्रदेश की ओर से भी पानी की आवक तेज हो गई। इसी को देखते हुए एक फिर माही बांध के 16 गेट खोल दिए गए। सोमवार को जहां माही बांध के 4 गेट खोले हुए थे वहीं मंगलवार को माही बांध का जलस्तर बनाए रखते हुए 16 गेट खोले गए। तेज बारिश की वजह से क्षेत्रों में घुटनों तक पानी भर गया जिसमें से लोगों को गुजरने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी। ग्रामीण इलाकों में भी सुबह से ही कहीं तेज तो कहीं बूंदाबांदी हुई।

झालावाड़ में मूसलाधार बारिश ( Heavy Rain in Jhalawar )
झालावाड़ में भी मौसम का मिजाज लगातार दूसरे दिन भी बदला रहा। झालावाड़ जिले के बकानी क्षेत्र में मंगलवार सुबह से ही लगातार बारिश का दौर जारी रहा जो शाम तक चला। सुबह आसमान में काली घटा छा गई और करीब एक घंटे तक मूसलाधार बारिश हुई। क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से नदी नालों में उफान आ गया आ रहा है। कई गांव का बकानी कस्बे से से संपर्क टूट गया। क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से खेत पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं। जिसके चलते फसलों को भारी नुकसान हो रहा है।

Updated On:
10 Sep 2019, 08:25:36 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।