थार में बढ़ रही गैंग वार, शांत आबोहवा में लग रहा अपराध का 'घुन'

By: Vinod Kumar Sharma

Published On:
Sep, 12 2018 12:16 PM IST

 
  • अपार तेल-गैस के भंडार से समृद्धि की ऊंचाइयां छू रहे बाड़मेर की शांत आबोहवा में अब अपराध का 'घुन' लगने लगा है। डोडा-पोस्ट तस्करों का आतंक ऐसा बढ़ा है कि अब हथियारों से लैस होकर वे एक-दूसरे के खिलाफ गैंगवार करने लगे हैं।

सामरिक दृष्टि से अति महत्वपूर्ण, तेल गैस की वजह से देश की ताकत और शांत आबोहवा वाले बाड़मेर जिले में समृद्धि के साथ अपराध ने सुरक्षा पर सवाल खड़े कर दिए हैं। यहां डोडा-पोस्ट तस्करों का आतंक ऐसा बढ़ा है कि अब हथियारों से लैस होकर एक-दूसरे के खिलाफ गैंगवार करने लगे हैं।पिछले दिनों दो दिन में दो बार फायरिंग हुई। हालांकि पुलिस ने पीछा कर गु़ड़ामालानी कस्बे के मुख्य बाजार से तीन लोगों को दबोच लिया था।


आपको बता दें कि गुड़ामालानी-धोरीमन्ना क्षेत्र मादक पदार्थों की तस्करी का अड्डा बन चुका है। बाड़मेर के तस्कर गुजरात में अवैध शराब पहुंचाने के लिए मेगा हाइवे से गुजरते हैं। वहीं, अवैध डोडा-पोस्त और अफीम चित्तौड़गढ़ के रास्ते बाड़मेर पहुंचाते हैं।


जानकारों के मुताबिक पंजाब से गुजरात को जोड़ने वाले मेगा हाइवे पर अवैध शराब व अन्य मादक पदार्थों की तस्करी लंबे समय से हो रही है। पिछले सात दिन में आबकारी विभाग ने दो ट्रक अवैध शराब पकड़ी हैं। इसी रास्ते अवैध डोडा-पोस्त पार होता है। अंदेशा है कि मध्यप्रदेश, यूपी और बाड़मेर के तस्करों के पास देशी कट्टा, पिस्तौल और अन्य हथियार पहुंच रहे हैं।

इस बारे में बाड़मेर एसपी मनीष अग्रवाल का कहना है कि संभवत: यूपी-एमपी से अवैध हथियार बाड़मेर पहुंचाए जाते हैं। पुलिस तस्करी और अवैध हथिार को लेकर लगातार कार्रवाई करती है। हथियार भी बरामद हुए हैं।

Published On:
Sep, 12 2018 12:16 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।