इस डॉक्टर ने किया 250 से ज्यादा बच्चों का यौन शोषण

By: Ankita Sharma

Updated On:
24 Aug 2019, 12:52:20 PM IST

  • — बच्चों को बेहोशी की दवा देकर की हैवानियत


— डायरी ने उगले राज, अब चलेगा केस

 


फ्रांस के जोनजैक में एक हैवान डॉक्टर को पुलिस ने अरेस्ट किया है। जब इस डॉक्टर की डायरी पुलिस ने पढ़ी तो वो भी सन्न रह गई। डायरी के पन्ने खुद उसकी हैवानियत के गवाह है। एक मामले में डॉक्टर ने लिखा है कि कैसे एपेंडिसाइटिस के लिए एक ऑपरेशन के बाद उसने एक बच्ची का बलात्कार किया था। पुलिस को शक है कि डॉक्टर ने साल 1989 से लेकर 2017 तक एक दो नहीं 250 से ज्यादा बच्चों के साथ हैवानियत की है। आरोप है कि ये डॉक्टर पहले मासूम बच्चों को दवा देकर उन्हें बेहोश करता और फिर उनका यौन शोषण करता। हैरानी की बात तो ये है कि ये डॉक्टर फ्रांस का टॉप सर्जन है। इस हैवान डॉक्टर का नाम है जोएल ले स्कौर्नल। 66 साल के स्कौर्नल पर आरोप है कि उसने करीब तीन दशक तक बच्चों के साथ यौन हिंसा की। ऐसा नहीं है कि डॉ स्कौर्नल पर पहली बार ये आरोप लगे हैं। इससे पहले भी कई बार वो पुलिस की गिरफत में आया और हर बार बच गया। डॉक्टर को 14 साल पहले बच्चों के साथ यौन हिंसा की तस्वीरें रखने के जुर्म में दोषी भी ठहराया जा चुका है। लेकिन 2017 तक सरकार ने स्कौर्नल को प्रैक्टिस करने की अनुमति दे दी थी। साल 2017 में डॉक्टर को 4 और 6 साल की दो लड़कियों से रेप के मामले में गिरफ्तार किया गया था। तब से उसपर केस चल रहा है। अब इस डॉक्टर की डायरी ने जो राज खोले हैं उसे सुनकर सब हैरान हैं। इस डायरी में 250 से ज्यादा बच्चों से हैवानियत की कहानी है, हालांकि डॉक्टर का कहना है कि ये उसकी कल्पना है। अब पुलिस जांच में जुटी है। वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट का दावा है कि इस डॉक्टर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। अपने कबूलनामें में डॉक्टर ने कहा कि ये अच्छा है कि उसे पुलिस ने पकड़ा है। यही उसकी सजा है। उसे अपनी गलती का एहसास है, लेकिन उसके पास कोई रास्ता नहीं था।

Updated On:
24 Aug 2019, 12:52:20 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।