किसान बढ़ा सकेंगे कृषि कनेक्शन का लोड

By: Anant Kumar Das

Updated On:
10 Sep 2019, 10:06:06 PM IST

  • जयपुर डिस्कॉम ने किसानों को राहत देते हुए बड़े लोड को नियमित करवाने की सुविधा दी है। इसके लिए डिस्कॉम ने स्वैच्छिक भार बढ़ोतरी घोषणा स्कीम लागू की है। यह स्कीम 31 अगस्त तक जारी सभी बिजली कनेक्शन पर लागू होगी।

जयपुर डिस्कॉम ने किसानों को राहत देते हुए बड़े लोड को नियमित करवाने की सुविधा दी है। इसके लिए डिस्कॉम ने स्वैच्छिक भार बढ़ोतरी घोषणा स्कीम लागू की है। यह स्कीम 31 अगस्त तक जारी सभी बिजली कनेक्शन पर लागू होगी। इसके लिए डिस्कॉक के इंजीनियर 30 नवंबर तक गांवों में चेकिंग कर वीसीआर भरेंगे। जयपुर डिस्कॉम के अधीक्षण अभियंता ने बताया कि इस योजना के दौरान कृषि कनेक्शन पर बिजली का लोड ज्यादा मिलने पर भी पेनल्टी नहीं लगाई जाएगी। इस दौरान बढ़े हुए बिजली लोड पर मात्र 30 रुपए प्रति हार्सपावर धरोहर राशि जमा करवा कर नियमित करवाया जा सकेगा।

इस योजना का लाभ ऐसे किसानों को नहीं मिलेगा जो एक ही कुएं या ट्यूबवेल पर दूसरी मोटर या पंप लगा कर लोड बढ़ाना चाहते हैं। या फिर उसी खेत में बने दूसरे कुएं में दूसरी मोटर चलाने के लिए भार बढ़ाते हैं तो उन्हें इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा। यदि पहले से ही दो मोटर स्वीकृत हैं और किसान उनका लोड बढ़ाना चाहे तो वे इस स्कीम का लाभ ले सकते हैं।

निगम की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि जिलों के सभी अधीक्षण अभियंता अपने अधीन आने वाले सभी फीडर इंचार्ज को निर्देश दें कि वह हर महीने रीडिंग लेते समय हर कृषि कनेक्शन के मीटर में दर्ज किलोवाट नोट करें और यदि मीटर में दर्ज भार स्वीकृत भार से अधिक पाया जाता है तो उपभोक्ता को योजना के बारे में बताकर स्वैच्छिक भार वृद्धि का घोषणा पत्र उपभोक्ता के हस्ताक्षर करवाकर प्राप्त करेंगे। इसके साथ ही जो सतर्कता जांच अधिकारी हैं, वे ऐसे कृषि कनेक्शन जो 2018-19 में दिए गए हैं उसकी जांच करेंगे।

-स्कीम से जुड़ी ये ख़ास बातें

किसान दो माह में यह राशि जमा करा सकेंगे
स्कीम समाप्त होने के बाद लगेगी पेनल्टी
उपभोक्ता भार वृद्धि के साथ जुड़ा सकेंगे दो वर्ष तक के कटे कनेक्शन
ट्रांसफार्मर क्षमता में बढ़ोतरी, नई केवी लाइन डालने और सब स्टेशन का खर्च उठाएगा डिस्कॉम

Updated On:
10 Sep 2019, 10:06:06 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।