आरसीए में वैभव एंट्री के बाद अब जोशी गुट के चुनावों की तारीख की घोषणा का इंतजार

By: HIMANSHU SHARMA

Updated On: 11 Sep 2019, 10:38:07 AM IST

  • वहीं सियायत की पिच पर डूडी भी मैदान में



जयपुर
राजस्थान क्रिकेट एसोशिएसन में एक बार फिर सियासत का मैदान सज चुका हैं। इस सितम्बर माह के अंत तक आरसीए को हर हाल में चुनाव करवाने हैं। चुनावों से पहले आरसीए की पिच पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे की राजसमंद जिला किक्रेट संघ से एंट्री हो चुकी है तो इसी तरह पहले नागौर जिला क्रिकेट संघ से ललित मोदी के बेटे रुचिर मोदी के हटने के बाद अचानक नागौर किक्रेट संघ से अध्यक्ष के पद पर कांग्रेस के ही दिग्गज नेता रामेश्वर डूडी ने भी एंट्री कर चुके हैं। जिनको नांदू गुट का समर्थन भी मिला था। नागौर जिला क्रिकेट संघ से डूडी की एंट्री के चुनाव अधिकारी की नियुक्ति कर नांदू गुट ने 22 सितम्बर को चुनाव करवाने की घोषणा कर दी थी। इसके बाद आरसीए के वर्तमान अध्यक्ष सीपी जोशी गुट की ओर से इस चुनाव कार्यक्रम पर आपत्ति जताई गई थी। लेकिन अब वैभव गहलोत की एंट्री होने के बाद अब जोशी गुट की ओर से चुनाव की तारीख का घोषणा का इंतजार अभी भी बना हुआ हैं। तय कार्यक्रम के अनुसार आज नहीं तो कल जोशी गुट को चुनाव कार्यक्रम की घोषणा करनी जरुरी होगी।
डूडी की एंट्री के मायने
जिस तरह राजसमंद से वैभव गहलोत की एंट्री हुई है उसी तरह नागौर से रामेश्वर डूडी की एंट्री होना भी यूं ही नहीं हैं। हालांकि डूडी और गहलोत एक ही राजनीतिक पार्टी से है। लेकिन ललित मोदी के वर्चस्व में रहे नागौर जिले से डूडी की एंट्री ने भी क्रिकेट के सियासत के पिच पर हलचल मचाई हुई हैं। लेकिन अभी नामांकन भरे जाने के बाद ही पता चल सकेगा कि डूडी वैभव के सामने मैदान में उतरेंगे या नहीं। वहीं खींवसर की विधानसभा सीट पर उपचुनाव भी होने जा रहे हैं। ऐसे में सूत्रों की माने तो वैभव अगर आरसीए के अध्यक्ष पद पर मैदान में आए तो डूडी की नजर खींवसर उपचुनाव की विधानसभा सीट पर भी हो सकती हैं।

Updated On:
11 Sep 2019, 10:38:06 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।