जयपुर में तीन साल बाद सितंबर इतना गर्म, राजस्थान के कई जिले हुए गर्मी से बेहाल

By: Pushpendra Singh Shekhawat

Updated On:
10 Sep 2019, 07:55:12 PM IST

  • मानसून सक्रिय नहीं होने से गर्मी के तेवर बढ़े, जयपुर सहित श्रीगंगानगर, चूरू, अलवर और सीकर में हाल बेहाल, हाडौती में कुछ स्थानों पर बूंदाबांदी तो कहीं तेज बरसात

जयपुर। मानसून सक्रिय नहीं होने से गर्मी तेवर दिखा रही है। प्रदेशभर में तापमान बढ़ रहा है। मंगलवार को तीन शहरों का तापमान 41 डिग्री पार कर गया। वहीं राजधानी में सितंबर महीने में पारा पिछले तीन सालों से अधिक दर्ज किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार जयपुर में मंगलवार को अधिकतम पारा 37 डिग्री दर्ज किया गया। इससे पहले 2015 में 29 सितंबर को 38 डिग्री पारा दर्ज किया गया था। इसी प्रकार प्रदेश के श्रीगंगानगर में 41.1, चूरू में 41.2 और बीकानेर में 41.6 डिग्री अधिकतम तापमान दर्ज किया गया।

2015 में हुआ था 38 डिग्री
जयपुर का अधिकतम तापमान पिछले तीन वर्षों से वर्ष 2017 में 36.3 डिग्री दर्ज किया गया था। वहीं मंगलवार को यहां का तापमान 37 डिग्री रहा। इससे पहले वर्ष 2015 में 29 सितंबर को 38 डिग्री पारा दर्ज किया गया था।

सड़कों पर जेठ माह जैसी मृगमरीचिका

सीकर में पिछले कई दिनों से बरसात नहीं होने से तापमान में बढ़ोतरी हो रही है। हाल यह है कि भाद्रपद माह में भी सड़कों पर मृग मरीचिका नजर आने लगी है। चूरू के तापमान में एक डिग्री ओर फतेहपुर के तापमान में करीब तीन डिग्री की बढ़ोतरी हुई है। शेखावाटी में पिछले एक पखवाड़े से अच्छी बारिश नहीं होने से अन्नदाता के चेहरों पर शिकन नजर आ रही है। मानसून के दूसरे चक्र में बादलों की बेरुखी से किसानों को खरीफ की फसलों में नुकसान की चिंता सताने लगी है।

अलवर बरसात को तरसा, गर्मी में बढ़ा तापमान

अलवर जिले के लोग इस साल बरसात को तरस गए हैं। सितम्बर माह में ऐसे हालत हो रहे हैं कि अधिकतम तापमान 37 डिग्री हो गया है जबकि इस अवधि में यह 30 डिग्री पर रहा है। जिले में कई दिनों से बरसात नहीं आ रही है। बरसात के अभाव में गर्मी और उमस बढ़ गई है। इस समय दिन के समय धूप में निकलना मुश्किल होने लगा है। मध्य रात्रि तक लोगों को तेज गर्मी से चैन नहीं मिल रहा है। अलवर जिले में अभी तक मात्र 352 मिमी औसत बरसात ही हुई है जिसके कारण किसानों की ही नहीं आम जन की भी चिंता बढ़ गई है।

हाड़ौती में झमाझम
हाड़ौती क्षेत्र में मंगलवार को कहीं हल्की तो कहीं झमाझम बारिश हुई। बारां जिले में भंवरगढ़ व छबड़ा समेत कई क्षेत्रों में तेज बारिश हुई तो बारां शहर में बूंदाबांदी होती रही। छबड़ा तहसील मुख्यालय पर सर्वाधिक 57 मिमी बारिश दर्ज की गई। झालावाड़ जिले में बकानी, पिड़ावा, डग, अकलेर, मनोहरथाना क्षेत्र में अच्छी बारिश हुई।

Updated On:
10 Sep 2019, 07:55:12 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।