गुरुजी की जेब में मिला तम्बाकू तो होगी कार्रवाई

By: MOHIT SHARMA

Updated On:
25 Aug 2019, 12:12:08 PM IST

 
  • अब शिक्षण संस्थानों में मास्साब नहीं कर सकेंगे तम्बाकू उत्पादों का उपयोग, स्कूल प्रांगण में लेकर जाने पर भी रहेगा प्रतिबंध

जयपुर। आए दिन स्कूलों में देखते को मिलता है कि गुरुजी बच्चों के सामने ही ताली पीट कर तम्बाकू बनाते रहते हैं, मुंह में भी खाए रहते हैं। कई बार तो उनसे सही से बोला भी नहीं जाता, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। स्कूल में गुरुजी अब तम्बाकू खाते नहीं दिखेंगे, यदि दिखे तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। अभी तक सरकार ने केवल स्कूलों के 100 मीटर के दायरे में तम्बाकू उत्पाद बेचने पर रोक लगा रखी है, अब स्कूल के अंदर जेब में ले जाने पर भी रोक होगी। अब स्कूल में तम्बाकू उत्पाद पाए जाने पर कार्रवाई होगी। कई बार तो स्कूलों में गुरुजी छिप कर स्कूल परिसर में ही धूम्रपान करते भी दिख जाते है, लेकिन अब ऐसा हुआ तो उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा, उन्हें सबक भी मिल जाएगा।

प्रदेशभर के शिक्षण संस्थानों में अब तम्बाकू के उपयोग पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया जाएगा। इसकी सरकार के स्तर पर तैयारी की जा रही है। जल्द ही इसके आदेश भी जारी हो जाएंगे। हाल ही शिक्षामंत्री ने इसकी जानकारी दी है। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंदसिंह डोटासरा ने बताया कि जब स्कूलों के 100 मीटर के दायरे में तम्बाकू बेचना प्रतिबंधित है तो अंदर लाना तो गलत होगा ही। कोई भी कार्मिक अब विद्यालय में तम्बाकू लेकर नहीं आ सकेगा, यदि आएगा और इसकी जानकारी मिली तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी, जिसका वह स्वयं जिम्मेदार होगा।

उन्होंने बताया कि यदि शिक्षक ही क्लास में तम्बाकू खाएगा तो वह बच्चों को क्या सिखाएगा। मंत्री ने बताया कि यह गैर कानूनी है। मंत्री ने बताया कि एक दो दिन में ही इसके आदेश जारी हो जाएंगे। सभी शिक्षण संस्थानों में इसका कडाई से पालन कराया जाएगा। विभाग के उच्चाधिकारी इसकी मॉनिटरिंग भी करेंगे।

 

Updated On:
25 Aug 2019, 12:12:08 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।