yamraj : पति को यमराज के पास से लाने की शक्ति देती है ये देवी, आज पूजन व्रत का शुभ मुहूर्त- पंचांग

By: Lalit Kumar Kosta

Updated On:
13 Aug 2019, 10:02:13 AM IST

  • मान्यता है कि इसकी पूजा और व्रत से यमराज भी पति को छोड़ देते हैं, पति दीर्घायु होता है।

जबलपुर। सावन माह का आज अंतिम मंगलवार है। आज मंगलागौरी व्रत पूजन का श्रेष्ठ मुहूर्त है। ऐसी मान्यता है कि इसकी पूजा और व्रत से यमराज भी पति को छोड़ देते हैं, पति दीर्घायु होता है।

शुभ विक्रम संवत् : 2076, संवत्सर का नाम : परिधावी्, शाके संवत् : 1941, हिजरी संवत् : 1440, मु.मास: जिल्हेज तारीख 11, अयन : दक्षिणायन, ऋतु : वर्षा
मास : श्रावण, पक्ष : शुक्ल
तिथि - जया तिथि त्रयोदशी दोपहर 1.35 तक उपरंात रिक्ता तिथि चतुर्दशी रहेगी। जया तिथि मंगलकारी कार्यों हेतु शुभ मानी जाती है। इस तिथि में अन्नप्रासन, गायन वादन, चित्रकला, सवारी, पुंसवन, संगीत, विवाह, नृत्यकला, वास्तु तथा धन के स्वामी कुबेर का पूजन शुभ तथा मंगलकारी माना जाता है। धन धान्य की उन्नति हेतु यह अत्यंत शुभ माना जाता है।
योग- दोपहर 1.42 तक प्रीति उपरंात आयुष्मान योग रहेगा। दोनों ही योग शुभ मंगलकारी रहेंगे।
विशिष्ट योगर्- आज प्रसूति स्नान, कर्जनिपटारा, पत्र लेखन तथा मित्र मिलन जैसे कार्य हेतु दिवस शुभ मंगलकारी है।
करण- सूर्योदय काल से तैतिल उपरंात गर तदनंंतर वणिज करण का प्रवेश होगा। करण गणना सामान्य है।

 

pati ki lambi umar ke liye vrat

नक्षत्र- धु्रवसंज्ञक अधोमुख नक्षत्र उत्तराषाढ़ दिवस रात्रि पर्यंत रहेगा। उत्तराषाढ़ नक्षत्र सभी प्रकार के मांगलिक कार्य हेतु शुभ तथा मंगलकारी माना जाता है। इस नक्षत्र में यात्रा, प्रतिष्ठा, कारीगरी, वास्तु पूजन, पुष्टता, आभूषण निर्माण, अलंकार तथा विद्या संगीत से जुड़े कार्य अत्यंत शुभ माने जाते हंै। सम्मान, उपहार तथा यात्रा हेतु भी यह नक्षत्र शुभ माना जाता है।
शुभ मुहूर्त - आज प्रसूति स्नान, नामकरण, अन्नप्रासन, आभूषण निर्माण, आवेदन पत्र लेखन, पौधरोपण, पत्र लेखन, जलाशयारंभ, वाटिका रोपण जैसे कार्य अत्यंत शुभ रहेंगे।
श्रेष्ठ चौघडि़ए - आज प्रात: 9.00 से 10.30 चर दोपहर 10.30 से 1.30 लाभ, अमृत एवं रात्रि 7.30 से 9.00 लाभ की चौघडिय़ा शुभ तथा मंगलकारी मानी जाती है।
व्रतोत्सव- आज : भौम व्रत, मंगलागौरी व्रत, शिव आराधना का व्रत व्रतोत्सव पर्व रहेगा। हनुमत आराधना कल्याणकारी रहेगी।
चन्द्रमा : दोपहर 10.43 तक धनु राशि में उपरंात मकर राशि में संचरण करेगा।

 



pati ki lambi umar ke liye vrat

ग्रह राशि नक्षत्र परिवर्तन: सूर्य के कर्क राशि में गुरु वृश्चिक राशि में तथा शनि धनु राशि के साथ सभी ग्रह यथा राशि पर स्थित हैं। सूर्य का पुष्य नक्षत्र में संचरण रहेगा।
दिशाशूल: आज का दिशाशूल उत्तर दिशा में रहता है, इस दिशा की व्यापारिक यात्रा को यथा संभव टालना हितकर है। चन्द्रमा का वास दक्षिण दिशा में है, सन्मुख एवं दाहिना चन्द्रमा शुभ माना जाता है।
राहुकाल: दोपहर 3.00.00 बजे से 4.30.00 बजे तक। (शुभ कार्य के लिए वर्जित)
आज जन्म लेने वाले बच्चे - आज जन्मे बालकों का नामाक्षर भे,भो,भा,भी अक्षर से आरंभ कर सकते हैं। उत्तराषाढ़ नक्षत्र में जन्मे बालकों की राशि मकर होगी, राशि स्वामी शनि तथा ताम्रपाद पाया में जन्म माना जाएगा। मकर राशि के जातक प्राय: बलवान, चंचल, तेजस्वी, ऊर्जावान, प्रभावशाली, उदारवृत्ति, स्वाभिमानी, गोवंश से लगाव वाले तथा अत्यंत बुद्धिमान प्रवृत्ति के होते हैं, समाज सेवा में रुचि रखते हैं।

Updated On:
13 Aug 2019, 10:02:13 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।