sawan somvar : नगर में बही शिव भक्ति की बयार, देखें वीडियो

By: Tarunendra Singh Chauhan

Published On:
Aug, 12 2019 06:40 PM IST

 
  • सावन माह का अंतिम सोमवार, शिव मंदिर और देवालयों में उमड़ी भीड़
    कटाव से निकली कांवड़ यात्रा, भगवान शंकर का रुद्राभिषेक
    पार्थिव शिवलिंग निर्माण

जबलपुर. पवित्र सावन माह sawan month के अंतिम सोमवार monday पर शिव lord shiva मंदिर temple और देवालयों में पूजन-अर्चन के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ Devotees crowd सुबह से ही उमडऩे लगी थी। भगवान भोलेनाथ lord shiva की भक्ति में डूबे श्रद्धालुओं ने भगवान भोलेनाथ पर जल चढ़ाने के बाद श्रद्धा भक्ति के साथ पूजन अर्चन किया। रुद्राभिषेक, शिवलिंग निर्माण making Shivling के साथ बिल्वपत्र, भांग, धतूरा रोली, चंदन से भगवान भोलेनाथ का पूजन अर्चन किया।

More read: जबलपुर के प्रशिद्ध शारदा मंदिर में लगा मेला, माँ का दर्शन पाने उमड़ी भीड़ : देखें वीडियो

सिहोरा के सिद्ध स्थल श्री शिव मंदिर बाबा ताल में ब्राह्मण समाज सिहोरा के संयोजन में पार्थिव शिवलिंग parthiv shivling निर्माण के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं पहुंची। श्रद्धा और भक्ति के साथ भक्तों ने पार्थिव शिवलिंग parthiv shivling बनाए। पवित्र भाव से भगवान शिव का पूजन अर्चन कर परिवार के सुख और समृद्धि की कामना की। सिर में निर्माण का क्रम सुबह 8 बजे से लगातार चलता रहा। शिव मंदिर में स्थापना प्राचीन शिवलिंग का रुद्राभिषेक श्रद्धालुओं ने किया। भक्तों द्वारा बनाए गए पवित्र शिवलिंग का दोपहर को वैदिक मंत्रोच्चार के साथ रुद्राभिषेक और पूजन किया गया। इसके बाद शाम को पार्थिव शिवलिंग का हिरन नदी में विसर्जन किया गया।

More read: ‘शिवपुराण कथा सुनने से पूर्ण होती हैं मनोकामनाएं’

 

कटाव धाम से निकली कांवड़ यात्रा
सावन मास के अंतिम सोमवार monday पर मझौली के सिद्ध क्षेत्र कटाव धाम रानीताल से धर्म क्रांति के संयोजन में कांवड़ यात्रा Kanwar Yatra निकाली गई। समर्थ भैया सरकार और कटाव धाम के महंत सिया वल्लभ दास वेदांती महाराज द्वारा पूजन अर्चन के साथ कांवड़ यात्रा kanwar yatra प्रारंभ हुई। सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने पुण्य सलिला मां हिरण के पवित्र जल holy water को कावड़ में भर कर भगवान विष्णु की जन्मस्थली नारायण सरोवर तालाब मझौली के लिए रवाना हुए। कांवड़ यात्रा kanwar yatra रानीताल, नंद ग्राम, हटोली, खबरा ग्राम से होते हुए नारायण तालाब सरोवर मझौली पहुंचेगी। कांवड़ यात्रा वहां से भगवान विष्णु वराह के मंदिर पहुंचने के बाद श्रद्धालु पुण्य सलिला मां हिरण के पवित्र जल से भगवान भोलेनाथ का जलाभिषेक करेंगे।

ये भी पढ़ें - lord shiva : जय भोलेनाथ के जयकारों से गूंजे शिवालय : देखें वीडियो

Published On:
Aug, 12 2019 06:40 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।