र्इ-काॅमर्स सेक्टर में उतरने को तैयार ITC, इस मामले में 2030 तक बन जाएगी देश सबसे बड़ी कंपनी

By: Saurabh Sharma

Published On:
Feb, 11 2019 01:01 PM IST

  • जल्द ही आर्इटीसी कंपनी र्इ-काॅमर्स साइट लाने की तैयारी कर रही है। जिसमें आर्इटीसी के प्रोडक्ट आॅनलाइन खरीदे जा सकेंगे।

नर्इ दिल्ली। देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनियों में से एक आर्इटीसी अब देश की सबसे बड़ी एफएमसीजी कंपनी बनने के लिए एक बड़ा कदम उठाने जा रही है। जल्द ही कंपनी र्इ-काॅमर्स साइट लाने की तैयारी कर रही है। जिसमें आर्इटीसी के प्रोडक्ट आॅनलाइन खरीदे जा सकेंगे। कंपनी अधिकारियों ने साफ कर दिया है कि र्इ-काॅमर्स सेक्टर के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। आपको बता दें कि देश की दूसरी र्इकाॅमर्स वेबसाइट पर आर्इटीसी के प्रोडक्ट्स पहले से ही बिक रहे हैं। आर्इटीसी के इस कदम के बाद से पतंजलि को बड़ा झटका लगने की उम्मीद है।

देश के महानगरों से होगी शुरूआत
आईटीसी ने itcstore.in नाम की वेबसाइट लॉन्च की है। मौजूदा समय में यह वेबसाइट दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, चेन्नर्इ, बेंगलुरु, हैदराबाद और कोलकाता रन करेगी। यहां सफल होने के बाद इसे दूसरे बड़े आैर छोटे शहरों में बढ़ाया जाएगा। कंपनी का दावा है कि पैकेजड फूड, पर्सनल केयर और स्टेशनरी के प्रॉडक्टस बेचने वाली कंपनियों में आईटीसी 2030 तक भारत की सबसे बड़ी कंपनी बन सकती है। हाल में आई नेलस्न की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में एफएमसीजी सेल्स में ई-कॉमर्स का शेयर पिछले दो सालों में तीन गुना बढ़ गया है। इस वक्त देश में करीब 98 प्रतिशत उपभोक्ताओं के पास इंटरनेट है, जिसकी मदद से वह जरूरत की चीजों को ऑनलाइन बुक कर सकते हैं।

बाबा रामदेव को होगा बड़ा नुकसान
आईटीसी के वेबसाइट खोलने के कदम से बाबा रामदेव के ब्रैंड पतंजलि को कड़ी टक्कर मिल सकती है। पतंजलि पहले से वेबसाइट बनाकर पर उसपर अपने उत्पाद बेच रहा है। वैसे आर्इटीसी के पिछला साल खास अच्छा नहीं रहा। जीएसटी और प्रतियोगिता के कारण पिछले साल पतंजलि के बिजनस को चोट पहुंची और 2013 के बाद उसने सबसे खराब प्रदर्शन किया था। रिसर्च प्लैटफॉर्म टॉफलर से मिले फाइनेंशियल डेटा के मुताबिक, फिस्कल र्इयर 2017-18 में पतंजलि की आमदनी 10 फीसदी गिरकर 8,135 करोड़ रुपए रह गई, जो सालभर पहले 9,030 करोड़ रुपए थी।

Published On:
Feb, 11 2019 01:01 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।