माइग्रेसन प्लेटफार्म एलूमा का अधिग्रहण करेगी गूगल, डेवलपर्स के लिए नए वेब डोमेन की भी घोषणा

By: Ashutosh Kumar Verma

Updated On: 20 Feb 2019, 08:49:45 PM IST

    • गूगल ने मंगलवार को घोषणा की कि वह सिलिकॉन वैली की डेटा माइग्रेशन कंपनी एलूमा का अधिग्रहण करेगी।
    • कंपनी ने कहा- एलूमा को अपने साथ जोड़ने से हम ग्राहकों को गूगल क्लाउड में सुव्यवस्थित की सुविधा दे सकेंगे।

नर्इ दिल्ली। अपने प्रतिद्वंद्वियों अमेजन और माइक्रोसॉफ्ट के साथ प्रतिस्पर्धा के अपने नवीनतम प्रयास में गूगल ने मंगलवार को घोषणा की कि वह सिलिकॉन वैली की डेटा माइग्रेशन कंपनी एलूमा का अधिग्रहण करेगी, ताकि अपने क्लाउड व्यापार सेवा का विस्तार कर सके। प्रौद्योगिकी दिग्गज के मुताबिक, एलूमा एक प्रमुख कंपनी है जो उद्यम ग्राहकों को क्लाउड में डेटा माइग्रेशन सुव्यवस्थित करने और उनके विभिन्न स्त्रोतों के डेटा को एक एकल डेटा वेयरहाउस में रखने में मदद करती है।

यह भी पढ़ें - बैंकों के CEO से बात करेंगे RBI गवर्नर शक्तिकांत दास, 21 फरवरी को करेंगे मुलाकात

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने गूगल के हवाले से बताया, "एलूमा को अपने साथ जोड़ने से हम ग्राहकों को गूगल क्लाउड में सुव्यवस्थित, स्वचालित स्थानांतरण अनुभव की पेशकश करने में सक्षम होंगे और उन्हें हमारे डेटाबेस सेवाओं की पूर्ण रेंज मुहैया कराएंगे।" एलूमा के सह-संस्थापक योनी ब्रोयडे और येयर विनबर्गर ने एक ब्लॉग पोस्ट में मंगलवार को लिखा था कि यह अधिग्रहण गूगल क्लाउड के साथ उनकी लंबे समय से चल रही साझेदारी का विकास है।

यह भी पढ़ें - इस खास मामले में भी मुकेश अंबानी ने दुनियाभर में लहराया परचम, जेफ बेजोस तक को छोड़ा पीछे

उन्होंने कहा, "गूगल क्लाउड में शामिल होने से हम फुल सेल्फ-सर्विस डेटाबेस माइग्रेशन का अनुभव प्रदान करने के एक कदम और करीब होंगे, जो उनकी क्लाउड प्रौद्योगिकी की शक्ति द्वारा संचालित होगी, जिसमें एनालिटिक्स, सुरक्षा, एआई और मशीन लर्निग शामिल हैं।"

यह भी पढ़ें - ILFS संकटः मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय ने कंपनी के कार्यालयों पर मारा छापा

डेवलपरों के लिए नए वेब डोमेन की भी घोषणा की

गूगल ने डेपलपरों के लिए एक नए ब्रांड न्यू टॉप लेवल डोमेन (टीएलडी) की घोषणा की है, जिस पर वे समुदाय बना सकेंगे, नई प्रौद्योगिकी को सीख सकेंगे और नए डोमेन नाम पर अपनी परियोजनाओं को प्रदर्शित कर सकेंगे। गूगल के उपाध्यक्ष, मुख्य सूचना अधिकारी (सीआईओ) और मुख्य डोमेन एन्थूजीऐस्ट बेन फ्राइड ने सोमवार को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, "हमारे अर्ली एक्सेस कार्यक्रम के तहत 28 फरवरी तक डीईवी डोमेन्स उपलब्ध हैं, जहां आप बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के अपने पसंदीदा डोमेन्स को सुरक्षित कर सकते हैं। 28 फरवरी से आपके पसंद के रजिस्ट्रार के माध्यम से .डीईवी डोमेन्स सालाना कीमत पर उपलब्ध होगी।"

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

Updated On:
20 Feb 2019, 08:49:44 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।