मंत्री तुलसी सिलावट : 'विश्व पटल पर राष्ट्र ध्वज को नई पहचान दिलाने के लिए कार्य करे युवा शक्ति'

By: Hussain Ali

Published On:
Aug, 13 2019 04:28 PM IST

  • घर-घर फहराएं तिरंगा पत्रिका अभियान : कौटिल्य एकेडमी में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने युवाओं को दिया प्रेरणादायी उद्बोधन

इंदौर. जब-जब भी दुनिया में परिवर्तन आया है वह किसी ओर ने नहीं युवा शक्ति ने किया है। देश के कई वीर स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने प्राणों की आहुति देकर हमें आजादी दिलाई है। राष्ट्रीयता की भावना हर मन में होनी चाहिए। जब हमने जन्म लिया तो आजाद भूमि पर जन्म लिया, लेकिन इस आजादी के लिए वर्षों तक लंबी लड़ाई लड़ी गई। इसलिए आज के युवाओं को राष्ट्र ध्वज को विश्वपटल पर नया नाम दिलाने और नया भारत रचने की दिशा में कार्य करना चाहिए। यह बात कौटिल्य एकेडमी में पत्रिका द्वारा चलाए जा रहे अभियान घर-घर फहराएं तिंरगा में सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने युवाओं को संबोधित करते हुए कही। कार्यक्रम में कौटिल्य एकेडमी के मैनेजिंग डायरेक्टर श्रीद्धांत जोशी और डायरेक्टर आशेंद्र मिश्रा विशेष रूप से उपस्थित रहे।

must read : भूत-प्रेतों के साथ दर्शन देने निकले महादेव, जम्मू-कश्मीर के संत ने दिया भक्तों को आशीर्वाद

मंत्री सिलावट ने कहा, हमारा देश धर्म, आस्था और संस्कृति का देश है। ये जो जीवन आपको मिला है उसे राष्ट्रहित में लगाएं। राष्ट्र ध्वज की रक्षा और सुरक्षा का दायित्व हम सभी का है। जब भी आप सोचें तो चांद और हिमालय पर जाने की सोचें। अपने लक्ष्य हमेशा बढ़े रखें। मैंने खुद ने भी ठेले पर सब्जी बेची है। उस वक्त मैं आर्ट एंड कॉमर्स कॉलेज में छात्रससंघ का अध्यक्ष था, वह भी एक नहीं दो बार, लेकिन मैंने कभी किसी काम को छोटा नहीं समझा। आप किस जगह और क्षेत्र से आते हैं, वह आपकी सफलता का पैमाना तय नहीं करता है। बस आपको एक संकल्प के साथ आगे बढऩा है। पत्रिका द्वारा चलाए गए इस अभियान का उ²ेश्य वर्तमान पीढ़ी के अंदर देशभक्ति के भाव जागृत करना है। इसकी मैं सरहाना करता हूं। देश का तिरंगा हमारी मान और शान का प्रतीक है।

must read : पीटीसी में हुई 15 अगस्त की तैयारियां, स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट होंगे मुख्य अतिथि

मिलावट के खिलाफ छेड रखी है जंग

उन्होंने कहा, आज कैंसर, बीपी जैसी कई बीमारियों का कारण मिलावट है। इसके खिलाफ मैंने जंग छेड़ रखी है। सिंथेटिक दूध के कारण कई तरह की समस्याएं देखने को मिल रही है। मेरी कोशिश है कि मिलावट की समस्या को प्रदेश से समाप्त कर सकूं।
राष्ट्र ध्वज का मान बढ़ाने का प्रयत्न करें

संस्थान के मैनेजिंग डायरेक्टर श्रीद्धांत जोशी ने कहा, राष्ट्रीय ध्वज और राष्ट्रीय प्रतीक हम सभी के लिए सर्वोपरि है। यदि हम अमरीका और यूरोपीय देशों की बात करें तो वहां राष्ट्रध्वज को हर जगह लगाकर रखते हैं। इससे उनकी राष्ट्रीयता की भावना नजर आती है। हमारे यहां राष्ट्रीय ध्वज को लेकर कुछ प्रतिबंध थे, वे खत्म हो चुके है और इसकी जानकारी सभी को होना चाहिए। युवाओं को चाहिए कि वे अपने जोश के साथ राष्ट्र ध्वज का मान बढ़ाने के लिए प्रयत्न करें।

Published On:
Aug, 13 2019 04:28 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।