चुनाव के समय वोट मांगने दुकान-दुकान भटके थे, अब जरूरत पड़ी तो कह रहे कोई मिलने नहीं आया

By: Hussain Ali

Published On:
Aug, 13 2019 03:57 PM IST

  • व्यापारी बोले- और कैसे मिलें व्यापारी मंत्री से..

इंदौर. सड़क चौड़ीकरण के लिए शहर के पुराने बाजारों में से एक सीतलामाता बाजार लगभग उजडऩे की कगार पर है। इसी बाजार में लोकसभा चुनाव के दौरान 18 मई को प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जनसिंह वर्मा ने वोट की अपील करते हुए व्यापारियों से कहा था कि वे याचक हैं और दाता को ध्यान रखना चाहिए कि मांगने वाला खाली हाथ न जाए। जिस बाजार में मंत्री हाथ जोड़कर घूम रहे थे, उसी बाजार को बचाने के लिए जब व्यापारियों को मंत्री की जरूरत पड़ी तो वे कह रहे हैं कि कोई भी व्यापारी आज तक उनके पास नहीं आया।

must read : डीपी पर काम कर रहा था कर्मचारी, अचानक चालू हुई लाइन, भयानक करंट से कटकर अलग हो गया हाथ

पिछले एक माह से इंदौर का प्रमुख रिटेल कपड़ा बाजार सीतलामाता बाजार का व्यापार ठप्प पड़ा है। सड़क चौड़ीकरण में लगभग आधी से ज्यादा दुकानें खत्म ही होने की कगार पर आ जाएंगी। त्योहारी सीजन होने के बाद भी यहां के व्यापारियों को थोक व्यापारी माल नहीं दे रहे हैं। 300 से ज्यादा व्यापारी आर्थिक नुकसान झेल रहे हैं। दुकानों को बचाने के लिए व्यापारी नगर निगम अफसरों, महापौर और प्रदेश सरकार के मंत्रियों के दरवाजों पर कई बार गए, लेकिन कोई सुनवाई करने को कोई तैयार नहीं है। वहीं पीडब्ल्यूडी मंत्री वर्मा ने कहा, कोई उनसे मिलने आएगा तो देखेंगे कि जनहित में क्या निर्णय लिया जा सकता है।

must read : 25-25 हजार रुपए बांड के रखकर युवाओं को नौकरी पर रखा, 22 लाख ले भागी सॉफ्टवेयर कंपनी

हर दरवाजे जा चुके व्यापारी

24 जून - महापौर मालिनी गौड़ से मिलने पहुंचे। महापौर ने साफ कहा, सड़क 60 फीट चौड़ी ही बनेगी और मेरे कार्यकाल में ही बनवाऊंगी।
26 जुलाई- महापौर से मिलने पहुचे व्यापारी, लेकिन वो मिली नहीं।

- जिले के प्रभारी मंत्री बाला बच्चन, मंत्री तुलसी सिलावट और जीतू पटवारी से भी मिले थे व्यापारी
- २7 जुलाई - नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्धनसिंह से मिलने पहुंचे व्यापारी, मंत्री ने कहा निगमायुक्त से मिलें बाद में मेरे पास आना।

- 30 जुलाई - निगमायुक्त आशीषसिंह से मिलने नगर निगम पहुंचे व्यापारी, निगमायुक्त ने डपटकर भगा दिया।
- २ अगस्त को शहर कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष विनय बाकलीवाल व्यापारियों के साथ निगमायुक्त से मिले, लेकिन निगमायुक्त अड़े रहे।

मुझसे मिलने कोई भी कभी भी आ सकता है

मंत्री सज्जनसिंह वर्मा का कहना है कि 20 दिन से मैं शहर में नहीं था, रविवार को ही कुछ देर के लिए आकर कुछ कार्यक्रमों में शामिल हुआ और उसके बाद उज्जैन आ गया था। मुझसे मिलने के लिए कोई परेशान होने की जरूरत नहीं है, मैं 15 अगस्त को इंदौर में ही रहूंगा। मुझसे मिलने कोई भी मेरे घर आ सकता है, मैं रहूंगा तो सभी से मिलता हूं।

Published On:
Aug, 13 2019 03:57 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।