एकता की मिसाल : हिंदू-मुस्लिम समुदाय ने बगीचे में खिलाए फूल

By: Hussain Ali

Published On:
Aug, 12 2019 03:33 PM IST

  • 15 अगस्त के पहले मजबूत होती आशा

इंदौर. शहर में मजहबी बातों से ऊपर उठकर राजमहल कॉलोनी व आसपास के नागरिकों ने एकता की नई मिसाल पेश की। ये जब हुआ तब 15 अगस्त, राखी और ईद का माहौल हर तरफर है। हिंदू-मुस्लिम आबादी वाले इस मिश्रित क्षेत्र के लोगों ने 20 साल से उजाड़ बगीचे को हरा-भरा करने का संकल्प लेकर काम शुरू किया। बगीचे में रंग-बिरंगे फूल एकता की खुशबू बिखेर रहे हैं।
शांति मंच के संयोजक शफी शेख ने कहा, बगीचे को खूबसूरत आकार देने से क्षेत्र की एकता को नया मुकाम मिलेगा। रहवासी जहूरभाई व प्रकाश सारोलकर ने पार्षद कंचन गिदवानी और सादिक खान के समक्ष बगीचे को संवारने का प्रस्ताव रखा। रहवासियों ने कहा कि हम लोग इसी तरह से मिलजुलकर रहते है। हमारे बीच में कभी धर्म आड़े नहीं आता है। दौलतगंज एकता पंचायत के हाजी सिराजभाई, हिंदी साहित्य समिति के अरविंद ओझा, स्मिता हरकरे, आशा राव, निर्मला त्रिवेदी, रिजवान भाई, शब्बीर भाई, उज्ज्वला भट्ट भी साथ आए। अभ्यास मंडल के मुकुंद कुलकर्णी के आतिथ्य में पौधरोपण किया।

Published On:
Aug, 12 2019 03:33 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।