सच्चाई जाने बिना मैसेज आगे बढ़ा रहे है तो फंस सकते है पुलिस के झमेले में

By: Pramod Mishra

Updated On:
12 Aug 2019, 11:42:17 PM IST

  • महिला मायके गई तो प्रेमी के साथ जाने के मैसेज चलाए, बिना जांचने फारवर्ड करने वालों पर केस, वाट्सऐप पर चले मैसेज को लेकर पुलिस ने की कार्रवाई


इंदौर. महिला ससुराल से कुछ दिनों के लिए मायके गई तो किसी ने प्रेमी के साथ जाने के मैसेज सोशल मीडिया पर चला दिए। मैसेज देख कुछ लोगों ने उसकी सच्चाई को जाने बिना फेंक मैसेज फारवर्ड कर दिए। पुलिस ने मैसेज फारवर्ड करने वालों पर केस दर्ज किया है।
गांधीनगर थाने में सोशल मीडिया पर फेंक मैसेज चलाकर बदनाम करने के मामले में केस दर्ज हुआ है। टीआई संजयसिंह बैस के मुताबिक, क्षेत्र के किसान की शिकायत पर कमल चौहान निवासी ग्राम पाड़ोदा, महेश डाबी निवासी बरलगई जांगी, रामनिवास निवासी देवास, सागर पिता सुभाष निवासी बरलाई जांगी, दीपक पिता हेमसिंह निवासी बरलाई जांगी, जगदीश पंवार निवासी देपालपुर, मनोहरसिंह निवासी रिजलाय व एक अन्य पर विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है।
पिछले महीने फरियादी किसान की पत्नी कुछ दिनों के लिए अपनी मायके गई थी। इस बीच किसी ने वाट्सऐप पर मैसेच चला दिया कि वह अपने प्रेमी के साथ चली गई है। कई वाट्सऐप ग्रुपों पर अलग-अलग लोगों ने इस मैसेज को फारवर्ड कर दिया। मैसेज की जानकारी बाद में फरियादी पक्ष को भी लगी। मायके में रहने वाली महिला की जब बदनामी हुई तो उसके पति ने पुलिस की शरण ली। पुलिस की जांच में पता चला कि किसी ने परिवार को परेशान करने व बदनाम करने के लिए झूठा मैसेज चला दिया था। जब वाट्सऐप पर मैसेज आया तो लोगों ने उसकी सच्चाई नहीं जानी और उसे आगे अन्य ग्रुपों में भेज दिया और यह पूरे क्षेत्र में वायरल हो गया। जांच के करीब डेढ़ महीने चली जांच के बाद जिन लोगों ने मैसेज फारवर्ड किए थे उन पर केस दर्ज किया है, हालांकि मूल मैसेज किसने चलाया वह अभी पता नहीं चल पाया है। इस मामले में पुलिस की जांच जारी है।

Updated On:
12 Aug 2019, 11:42:17 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।