लापरवाही बरतने पर उपयंत्री सस्पेंड

By: Reena Sharma

Published On:
Apr, 17 2019 05:15 PM IST

  • ड्रेनेज काम में लापरवाही बरतने पर निगमायुक्त ने उपयंत्री को सस्पेंड कर दिया

इंदौर. जोन-14 के अंतर्गत आने वाले वार्ड 85 में स्थित श्रद्धा-सबुरी कॉलोनी में ड्रेनेज की पाइप लाइन डाली जा रही है। रोजाना सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के लिए निकलने वाले निगमायुक्त आशीष सिंह जब श्रद्धा-सबुरी कॉलोनी में पहुंचे, तो उन्होंने देखा कि अधिकतर चेम्बरों के ढक्कन टूटे हुए हैं। इसके साथ ही ड्रेनेज लाइन का लेवलिंग कार्य ठीक ढंग से नहीं होना पाया गया। काम मानक स्तर का नहीं मिला।

गड़बड़ी मिलने पर सिंह ने जोन पर कार्यरत उपयंत्री आनंद रैदास को तलब कर ड्रेनेज काम सही ढंग से न होने पर सवाल-जवाब करने के साथ जानकारी चाही, जो कि उचित जवाब नहीं दे पाए, जबकि रैदास के निर्देशन में ही काम चल रहा था। ड्रेनेज संबंधित काम गुणवत्तापूर्वक न होने और काम के प्रति लापरवाही बरतने पर आयुक्त सिंह ने रैदास को सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही विभागीय जांच अलग शुरू कर दी।

निलंबन अवधि में रैदास का मुख्यालय पंपिग स्टेशन जलूद रहेगा। रैदास को सस्पेंड करने के बाद आयुक्त ने सेट पर सभी अफसरों को निर्देशित कर दिया है कि काम के प्रति लापरवाही बिल्कुल बर्दाश्त नहीं होगी, इसलिए काम की गुणवत्ता पर ध्यान दिया जाए।

निलंबन के बाद हुई बहाली

लापरवाही बरतने और बिना बताए काम पर से गायब होने वाले कई सहायक राजस्व अधिकारी (एआरओ), उपयंत्री, निगमकर्मियों और सफाईकर्मियों को पिछले दिनों सस्पेंड किया गया। इनमें से कुछ की बहाली कर दी गई है, लेकिन इनके खिलाफ बैठाई गई विभागीय जांच खत्म नहीं की गई है। आयुक्त सिंह ने अमले के अभाव में इनकी बहाली की है। जिनकी बहाली हुई है, उनमें लालबाग कचरा ट्रांसफर स्टेशन का कर्मचारी राजेश खोड़े, सहायक एआरओ पुनीत अग्रवाल, जोन क्रमांक-1 के उपयंत्री महेश जोशी शामिल हैं।

Published On:
Apr, 17 2019 05:15 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।