इंदौर के सराफा के व्यंजनों की ओरछा फेस्टिवल में रहेगी धूम

इंदौर. शहर के जायके देशभर में लोकप्रिय हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए प्रदेश सरकार ओरछा फेस्टिवल में भी इसकी ब्रांडिंग की तैयारी कर रही है। झांसी के पास स्थिति इस ऐतिहासिक महत्व के स्थान पर 6 से 8 मार्च तक चलने वाले इस फेस्टिवल को ‘नमस्ते ओरछा’ नाम दिया है। इसमें देश-विदेश से 10 हजार से अधिक लोगों के आने की संभावना है। फेस्टिवल में इंदौर के सराफा को रिक्रिएट किया जा रहा है, ताकि दुनियाभर से आने वाले लोगों को इस तीन दिवसीय फेस्टिवल के दौरान इंदौर का टेस्ट चखने का भी मौका मिले। इसी की तैयारी के लिए शुक्रवार को एमपी टूरिज्म बोर्ड के अधिकारी इंदौर पहुंचे।
होटल मैरियट में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में एमपी टूरिज्म बोर्ड में डिप्टी डायरेक्टर युवराज पडोले ने बताया, हम ओरछा फेस्टिवल के दौरान इसे रीक्रिएट करेंगे। इसमें 15 से 20 स्टॉल लगेंगे जिनमें इंदौर का मशहूर पोहा, जलेबी, सेंव और नमकीन समेत कई आइटम रखे जाएंगे। इस जोन का लुक भी सराफा की तरह ही दिया जाएगा। कॉन्फ्रेंस में फेस्टिवल डायरेक्टर यास्मीन किदवई ने कहा, आइफा अवॉर्ड की वजह से ओरछा फेस्टिवल को बहुत सपोर्ट मिल रहा है। इस दौरान प्रदेश में बड़ी संख्या में टूरिस्ट आएंगे जो ओरछा फेस्टिवल का लुत्फ लेने भी पहुंचेंगे।
नामचीन कलाकारों की परफॉर्मेंस से सजेगा फेस्टिवल
महोत्सव में विविध गतिविधियां जैसे म्यूजिक, आर्ट, वैलनेस, ट्रेवल, नेचर, एडवेंचर, हिस्ट्री और कल्चर आदि संबंधी कार्यक्रम आयोजित होंगे। बेतवा नदी के किनारे महाआरती का मनमोहक दृश्य का चित्रण किया जाएगा। प्रख्यात गायक पद्मश्री शुभा मुद्गल, गीतकार-लेखक स्वानंद किरकिरे, गायक शिल्पा राव, संगीतकार क्लिंटन सेरेजो, फ्यूजन रॉक के दिग्गज इंडियन ओशन, अभिनेता मनोज वाजपेयी, निओ फोक म्यूजिक बैंड कबीर कैफे और फ्रेंच स्पेनिश वल्र्ड म्यूजिक स्टार मनु चाओ समारोह में प्रमुख आकर्षण रहेंगे। महोत्सव के दौरान फोटोग्राफी, फिल्म मेकिंग, परफॉर्मिंग आट्र्स के लिए कार्यशालाएं और साइट विजिट भी होंगी। मध्य प्रदेश की हस्तशिल्प विरासत को दिखाने के लिए प्रदर्शनी, मशहूर कारीगरों और ग्लोबल एवं लोकल ब्रांड्स के साथ फैशन और डिजाइन के दर्शन भी करवाए जाएंगे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।