अपराधियों को सक्रिय सदस्य नहीं बनाएगी भाजपा

By: Hussain Ali

Published On:
Aug, 13 2019 08:00 AM IST

  • संगठन ने दिए निर्देश, सदस्यता देने से पहले होगी बारीकी से जांच

इंदौर. राजनीति में अपराधियों के प्रवेश को लेकर भाजपा हमेशा विरोध करती रही है। यहां तक कि अपने ही विधायक के बल्लाकांड करने पर प्रधानमंत्री ने खासी नाराजगी जाहिर की। पार्टी ने साफ कर दिया है कि किसी भी अपराधी को पार्टी का सक्रिय सदस्यता नहीं दिलाई जाए। राजनीतिक मुकदमे तो लगेंगे, लेकिन आपराधिक बर्दाश्त नहीं किए जाएंगे।

must read : हर्षोल्लास से मनाया गया ईद का त्योहार, बोहरा समाज में अदा की विशेष नमाज, दी एक-दूसरे को बधाई

आज से भाजपा में सक्रिय सदस्य बनाने का सिलसिला शुरू होगा। इंदौर भाजपा ने तय किया है कि जिसने 100 साधारण सदस्य बनाए हैं उन्हें ही हजार रुपए की आजीवन सहयोग निधि की रसीद काटकर ये तमगा दिया जाएगा। सक्रिय सदस्यता के अभियान को लेकर पार्टी ने कई बिंदुओं पर साफ व सख्त निर्देश दिए हैं। स्पष्ट कहा है कि किसी को भी सक्रिय सदस्यता बनाने के लिए बारीकी से जांच की जाए। खासतौर पर गुंडे-बदमाश व अन्य आपराधिक रिकॉर्ड वालों को बिलकुल सदस्य नहीं बनाया जाना चाहिए। ये जिम्मेदारी मंडलध्यक्षों की है। कार्यकर्ता पर आंदोलन, प्रदर्शन की वजह से राजनीतिक प्रकरण हो सकते हैं जो मान्य हैं। इसके अलावा सक्रिय सदस्य के लिए तीन साल का साधारण सदस्य होना भी आवश्यक है।

must read : सीतलामाता बाजार:सुबह पहुंचे अपर आयुक्त, व्यापारियों से की चर्चा, दोपहर बाद सर्वे शुरू

आपराधिक घटनाओं से मोदी थे नाराज

पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसदीय दल की बैठक में अपना रुख साफ कर दिया था। उन्होंने नेता पुत्रों के मारपीट करने की घटना पर आड़े हाथ लेते हुए पार्टी से निकालने तक की बात कही थी। सबसे बड़ा निशाना भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के विधायक बेटे आकाश विजयवर्गीय पर सभी साधा था।

क्यों जरूरी है...

भाजपा में सक्रिय सदस्यता क्यों आवश्यक है, जिसको लेकर सवाल खड़े होते हैं। पार्टी के नियमानुसार सक्रिय सदस्यता वालों को ही महत्वपूर्ण पद दिए जा सकते हैं। संगठन की बात करें तो वार्ड अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष तक के पद के लिए यह जरूरी होता है। इसके अलावा पार्टी उन्हें ही चुनाव लड़ाती है, जो सक्रिय सदस्य हैं।

Published On:
Aug, 13 2019 08:00 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।