पहले चरण के मतदान के लिए प्रचार रूका, प्रत्याशियों के माथे पर आया पसीना, अब पासा मतदात के हाथ में

By: Prateek Saini

Updated On: Apr, 09 2019 09:20 PM IST

  • चुनाव से पहले राज्य में भारी मात्रा में नगदी व नशीले पदार्थ बरामद किए गए है...

(हैदराबाद): लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत 11 अप्रैल को मतदान होना है। आज शाम पांच बजे चुनावी प्रचार बंद हो गया। चुनाव में भाग ले रहे सभी प्रत्याशियों ने प्रचार में जी—जान लगा दी। प्रत्याशी नामांकन भरने के बाद से ही प्रचार में जुट गए थे। जहां निर्दलीय चुनाव लड़ रहे उम्मीदवार अपने स्तर पर प्रचार कर रहे थे। वहीं राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों के प्रचार के लिए अभियान चलाए गए, कई रैलियां निकाली गई वहीं पार्टी के स्टार प्रचारकों ने भी वोटर्स को लुभाने के प्रयास किए। पर मतदाता किसकी झोली में अपना अमूल्य वोट डालकर संसद में पहुंचाता है यह तो चुनाव परिणाम आने के बाद ही पता चल पाएगा। पर यह बात तय है कि इस सीयासी
खेल का पासा अब पूरी तरह से मतदाता के हाथ में आ गया है। पहले चरण के तहत तेलंगाना की सभी 17 सीटों के लिए वोट डाले जाएंगे।


चुनाव से पहले राज्य में भारी मात्रा में नगदी व नशीले पदार्थ बरामद किए गए है। प्राप्त जानकारी के अनुसार अब तक तेलंगाना में 45 करोड़ से ज्यादा नकद रकम, 4 करोड़ से ज्यादा की शराब और 2 करोड़ के ज्यादा के ड्रग्स और नशीले पदार्थ बरामद किये जा चुके हैं। चुनाव आयोग निष्पक्ष चुनाव करवाने के लिए प्रयासरत है। पर बड़ी मात्रा में यूं नगदी व नशा बरामद होना यह चिंताजनक विषय है। यह बात कोई स्वीकारने को तैयार नहीं है पर पर्दे के पीछे से मतदाता को अपने पक्ष में करने के लिए पैसे व नशे का लालच दिया जाता रहा है। मतदाता को चाहिए कि राष्ट्रहित को ध्यान में रखकर, सभी प्रलोभनों को दरकिनार कर सही उम्मीदवार के खाते में अपना वोट डाले।

Published On:
Apr, 09 2019 09:20 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।