नीले पानी की ये दो शार्क अचानक बदल लेती हैं रंग, सच्चाई जान दंग रह जाएंगे आप

By: Soma Roy

Updated On: Aug, 13 2019 12:30 PM IST

 
    • Shark : न्यूयॉर्क के सिटी यूनिवर्सिटी की ओर से हुई एक रिसर्च में दो प्रजातियों के शार्क की खोज की गई है

नई दिल्ली। वैसे तो ज्यादातर शार्क मछली ग्रे, ब्लैक और भूरे रंग की होती है। मगर क्या कभी आपने हरे रंग की शार्क मछलियां देखी हैं। आज हम आपको शार्क की दो ऐसी प्रजातियों के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में शायद ही आपने सुना होगा। इन्हें स्वेल शार्क और कैट शार्क कहते हैं।

स्वले शार्क प्रशांत सागर में रहती हैं। जबकि कैट शार्क अटलांटिक महासागर में। अलग-अलग जगह रहने के बावजूद इनके गुण बिल्कुल समान हैं। ये दोनों ही हरे रंग की होती हैं। न्यूयॉर्क के सिटी यूनिवर्सिटी की ओर से हुई एक रिसर्च में सामने आया कि इन शार्क का रंग असल में हरा नहीं होता है। मगर ये समुद्र में पड़ने वाली सूर्य की नीली किरणों को अपने शरीर में अबसॉर्ब कर लेती हैं। जिससे उनके शरीर में मौजूद मॉलेक्यूलस टूट जाते हैं। जिससे वे हरा रंग उत्पन्न करते हैं। इसी वजह से ये रात में भी जुगनुओं की तरह चमकती हैं।

 

Published On:
Aug, 13 2019 12:29 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।