दस्तक की तरह अब चलेगा सघन दस्त अभियान

By: Manoj Kumar Kundoo

Updated On:
24 Aug 2019, 09:02:47 PM IST

  • सघन दस्त रोग अभियान के लिए स्वास्थय विभाग ने दिए निर्देश, सितंबर में जिले भर में चलाया जाएगा अभियान

 

होशंगाबाद
जिले में दस्त रोग से होने वाली बाल मृत्यु में कमी लाने के उद्देश्य से दस्तक की तरह अब दस्त रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा। यह अभियान राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन संचालक के निर्देश पर सितंबर में चलेगा। इस संबंध में सीएमएचओ डा. दिनेश कौशल ने जिला अस्पताल के सीएस, इटारसी के सरकारी अस्पातल अधीक्षक सहित सभी सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को सघन दस्त रोग नियंत्रण पखवाड़ा ३० सितंबर से पहले चलाने के निर्देश दिए हैं।
-------------
अभियान के तहत होंगी ये गतिविधियां- -दस्त रोग नियंत्रण के लिए जनजागरुकता बढ़ाने प्रचार-प्रसार -जिन घरों में ५ वर्ष से कम उम्र के शिशु हैं, उन घरों में आशा द्वारा ओआरएस पैकेट एवं जिंक टैबलेट देंगी -पहुंच विहीन क्षेत्र, मलिन बस्ती, एेसे उप स्वास्थ्य केंद्र जहां पर एएनएम नहीं है। एेसे क्षेत्र जहां पर पूर्व में दस्त रोग के प्रकोप के प्रकरण हुए हो उन स्थानों पर ओआरएस के घोल बनाए जाने एवं जिंक टैबलेट के उपयाग हेतु एएनएम/आशा द्वारा प्रदर्शन किया जाएगा -पीएचई विभाग द्वारा पानी के नमूनों की नियमित जांच एवं कीटाणु शोधन -दस्त से होने वाली मृत्यु एवं दस्त के प्रकोप की रिपोर्टिंग को सुदृढ़ करना -स्कूलों में हाथ धुलाई के संवर्धन संबंधित गतिविधियों का आयोजन करना -स्वास्थ्य केंद्रों पर आेआरएस कार्नर की स्थापना करना

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

दस्तक की तरह अब चलेगा सघन दस्त अभियान

सघन दस्त रोग अभियान के लिए स्वास्थय विभाग ने दिए निर्देश, सितंबर में जिले भर में चलाया जाएगा अभियान

होशंगाबाद
जिले में दस्त रोग से होने वाली बाल मृत्यु में कमी लाने के उद्देश्य से दस्तक की तरह अब दस्त रोग नियंत्रण अभियान चलाया जाएगा। यह अभियान राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के मिशन संचालक के निर्देश पर सितंबर में चलेगा। इस संबंध में सीएमएचओ डा. दिनेश कौशल ने जिला अस्पताल के सीएस, इटारसी के सरकारी अस्पातल अधीक्षक सहित सभी सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को सघन दस्त रोग नियंत्रण पखवाड़ा ३० सितंबर से पहले चलाने के निर्देश दिए हैं।
-------------
अभियान के तहत होंगी ये गतिविधियां- -दस्त रोग नियंत्रण के लिए जनजागरुकता बढ़ाने प्रचार-प्रसार -जिन घरों में ५ वर्ष से कम उम्र के शिशु हैं, उन घरों में आशा द्वारा ओआरएस पैकेट एवं जिंक टैबलेट देंगी -पहुंच विहीन क्षेत्र, मलिन बस्ती, एेसे उप स्वास्थ्य केंद्र जहां पर एएनएम नहीं है। एेसे क्षेत्र जहां पर पूर्व में दस्त रोग के प्रकोप के प्रकरण हुए हो उन स्थानों पर ओआरएस के घोल बनाए जाने एवं जिंक टैबलेट के उपयाग हेतु एएनएम/आशा द्वारा प्रदर्शन किया जाएगा -पीएचई विभाग द्वारा पानी के नमूनों की नियमित जांच एवं कीटाणु शोधन -दस्त से होने वाली मृत्यु एवं दस्त के प्रकोप की रिपोर्टिंग को सुदृढ़ करना -स्कूलों में हाथ धुलाई के संवर्धन संबंधित गतिविधियों का आयोजन करना -स्वास्थ्य केंद्रों पर आेआरएस कार्नर की स्थापना करना

Updated On:
24 Aug 2019, 09:02:47 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।