शहीद को अंतिम विदाई, भारत माता की जय और वंदेमारतम् से गूंजा गगन, देखें वीडियो

By: arun rawat

Published On:
Jun, 30 2019 10:11 AM IST

  • छत्तीसगढ़ में बीजापुर के केशकुतूल पेट्रोलिंग पर निकली सीआरपीएफ टीम पर हुए नक्सली हमले में हाथरस जिले का एक जवान शहीद हुआ है।

हाथरस। छत्तीसगढ़ में बीजापुर के केशकुतूल पेट्रोलिंग पर निकली सीआरपीएफ टीम पर हुए नक्सली हमले में हाथरस जिले का एक जवान शहीद हुआ है। शहीद सब इंस्पेक्टर मदन पाल सिंह का पार्थिव शरीर शनिवार को उनके निवास अलीगढ़ रोड स्थित गढ़ी तमन्ना के न्यू कॉलोनी में राजकीय सम्मान के साथ लाया गया। शहीद मदन पाल सिंह का पार्थिव शरीर देखकर परिवार के लोगों का रो-रो कर बुरा हाल था। शहीद के सम्मान में उमड़ी भीड़ भारत माता की जय और वंदेमातरम के जयकारे लगा रही थी। जब तक सूरज चाँद रहेगा मदन पाल सिंह का नाम रहेगा, नारा भी खूब लगाया गया।। इसके बाद शहीद जवान के पार्थिव शरीर को मदन पाल सिंह के बड़े बेटे राहुल ने मुखाग्नि दी।

 

आपको बता दें कि 28 जून दिन शुक्रवार की दोपहर करीब 1 बजे छत्तीसगढ़ के बीजापुर के केशकुतूल पेट्रोलिंग पर निकली सीआरपीएफ टीम पर नक्सलियों ने बारूदी सुरंग बिछा रखी थी। जिसके बाद नक्सलियों ने जवानों पर आत्मघाती हमला कर दिया। नक्सलियों के हमले में दो जवान मौके पर ही शहीद हो गए और हाथरस के मदन पाल सिंह जख्मी हो गए। घायल मदन सिंह ने जगदलपुर अस्पताल में उपचार के दौरान अपना दम तोड दिया। उनके शहीद होने की सूचना दोपहर दो बजे मिली।


23 जून को लौट थे
शहीद के परिवार में उनकी माँ, पत्नी, बेटा और दो बेटियां है। मदन पाल सिंह सीआरपीएफ में 1986 में भर्ती हुए थे। 23 जून को मदन सिंह अपनी छुट्टी बिताकर घर से वापस छत्तीसगढ़ ड्यूटी पर लोटे थे। इसके पांच दिन बाद ही परिजनों को मदन पाल सिंह के शहीद होने की सूचना मिली तो सब हैरान रह गए। शहीद सब इंस्पेक्टर मदन पाल सिंह का पार्थिव शरीर शनिवार को अलीगढ रोड स्थित गढ़ी तमन्ना के न्यू कॉलोनी स्थित मकान पर राजकीय सम्मान के साथ लाया गया।

 

 

crpf

नम आँखों से दी श्रद्धांजलि
शहीद जवान को अंतिम विदाई देने के लिए जिले प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी, सांसद राजवीर सिंह दिलेर, सिकंदराराऊ विधायक वीरेंद्र सिंह राना, सादाबाद विधायक रामवीर उपाध्याय के साथ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव रामजीलाल सुमन और पुलिस- प्रशासन के तमाम अधिकारी मौजूद थे। शहीद को सभी लोगों ने नम आँखों से श्रद्धांजलि अर्पित की।

प्रभारी मंत्री ने दिया चेक
मुखाग्नि के बाद जिले के प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी शहीद के घर पंहुचे। शहीद की माँ को 5 लाख रुपये का और पत्नी को 20 लाख रुपये का चेक आर्थिक सहायता के रूप में दिया। उन्होंने कहा कि हम और हमारी सरकार हमेशा आपका सहयोग करती रहेगी।

crpf

Published On:
Jun, 30 2019 10:11 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।