बैठक में बोले नहर अध्यक्ष, बरसात सिर पर मगर बजट का इंतजार

By: Purushotam Jha

Published On:
Jul, 10 2019 09:04 PM IST

  • https://www.patrika.com/hanumangarh-news/

    भाखड़ा परियोजना से जुड़े जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों की बैठक बुधवार को सिद्धमुख सभागार में संपन्न हुई। इस मौके पर नहर अध्यक्षों से आबयाना जमा नहीं करवाने वाले किसानों की बारी काटने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया। साथ ही एनटीडब्ल्यू नहर को पक्का करने के प्रस्ताव को पारित कर इसके निर्माण के लिए टैंडर जारी करने की मांग की।

     

बैठक में बोले नहर अध्यक्ष, बरसात सिर पर मगर बजट का इंतजार
-जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों की बैठक में शुक्रिया के साथ शिकवे के स्वर भी मिले
-आबयाना जमा नहीं करवाने वाले किसानों की बारी काटने का प्रस्ताव बैठक में सर्वसम्मति से किया पारित

हनुमानगढ़. भाखड़ा परियोजना से जुड़े जल उपयोक्ता संगम अध्यक्षों की बैठक बुधवार को सिद्धमुख सभागार में संपन्न हुई। इस मौके पर नहर अध्यक्षों से आबयाना जमा नहीं करवाने वाले किसानों की बारी काटने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया। साथ ही एनटीडब्ल्यू नहर को पक्का करने के प्रस्ताव को पारित कर इसके निर्माण के लिए टैंडर जारी करने की मांग की। इस मौके पर सभी अध्यक्षों ने आबयाना वसूली के अनुपात में मिलने वाली हिस्सा राशि का भुगतान करने की मांग की। नहर अध्यक्षों का कहना था कि विभाग की लेटलतीफी के चलते अध्यक्षों को नहरों के संचालन में दिक्कत आ रही है। स्थिति यह है कि वर्तमान में नहरों में केळी की आवक तेज हो गई है। सील्ट भी जमा हो रहे हैं लेकिन सफाई के लिए अध्यक्षों के पास बजट नहीं है। बरसात सिर पर रहने के बावजूद बजट आवंटित नहीं करने के कारण अध्यक्षों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। अध्यक्षों का कहना था कि अभी तक केवल फरवरी तक की हिस्सा राशि ही उन्हें मिली है। इसके बाद फूटी कौड़ी नहीं मिली है। बैठक में मौजूद अध्यक्षों ने भाखड़ा नहरों में पर्याप्त पानी चलाने पर अफसरों का धन्यवाद ज्ञापित किया। ईश्वर सहारण, दिलीप यादव, डीप्टी सिंह, विनोद कड़वासरा, लालजीत सिंह, मोहम्मद मुनसा,जगजीत सिंह, नूरनबी भाटी, बलराज सिंह, उश्नाक जोइया, हरदेव सिंह सहित विभिन्न वितरिकाओं के अध्यक्ष बैठक में मौजूद रहे।

Published On:
Jul, 10 2019 09:04 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।