खेत में मिला पाक के झंडे का निशान और उर्दू भाषा में लिखा गुब्बारा, मचा हड़कंप

By: Santosh Kumar Trivedi

Published On:
Sep, 12 2018 08:21 AM IST

  • www.patrika.com/rajasthan-news/

जाखड़ांवाली। खेत में पाकिस्तान के झंडे का निशान और उर्दू भाषा में लिखा गुब्बारा मिलने से लोगों में दहशत फैल गई। जानकारी के अनुसार, सूरतगढ़ तहसील के ग्राम पंचायत सरदारपुरा खर्था के चक 14 एसपीडी के एक खेत मे मंगलवार सुबह करीब सात बेजे एक हरे रंग का गुब्बारा मिलने से लोगों मे दहशत फैल गई ।


बिरबलराम सहू के खेत में सिंचाई खाळे पर एक हरे रंग का गुब्बारा पड़ा था । पास के खेत में सिंचाई कर रहे किसान अनिल पूनिया ने गुब्बारे के पास जाकर देखा तो उस पर पाकिस्तान के झंडे का चिन्ह बना होने व उर्दू भाषा मे कुछ लिखा हुआ होने से यह गुब्बारा पाकिस्तान से हवा मे उड़कर आने की आंशका जताते हुए आसपास के लोगों को सूचना दी। सूचना मिलने पर कुभाराम पूनिया, भूराराम, अनिल, रवि कुमार, पुरखाराम पूनिया आदि किसान पहुंचे। किसानों ने इसे संधिगत मानते हुए सूरतगढ़ पुलिस को सूचना दी ।

 

पहले भी मिले चुके हैं गुब्बारे व अखबार
इससे पहले 25 सितबर 2016 को सरदारपुरा खर्था के पास नाली बेड मे नानूराम पुत्र नन्दराम स्वामी के खेत मे बाजरी के पौधे पर लटकता हुआ संधिगत गुब्बारा मिला था। गुब्बारे पर ग्यारह अंको का एक मोबाइल नबर व उर्दू भाषा मे कुछ शब्द लिखे हुए थे। वहीं गुब्बारा प्लेन होने की बजाय उस पर तारे जैसे चिन्ह प्रिंट थे।

 

26 मार्च 2017 को जाखड़ांवाली के पास देवतराम पुत्र ब्रजलाल घोटीया के सरसों के खेत मे एक हल्के पीले रंग का एक फटा हुआ गुब्बारा व धागे से बंधा हुआ एक उर्द भाषा मे छपे अखबार का टुकड़ा मिला । गुब्बारे पर बेल जैसी छपाई भी की हुई थी। किसान देवतराम ने इसे पाकिस्तान से आए हुए होने की आशंका जताते हुए पुलिस को सूचना देकर जब्त करवा दिया था।

राजस्थान की इस प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी में रात 2 बजे तक हुई री-काउंटिंग, आया चौंकाने वाला नतीजा, सवा दो बजे दिलाई शपथ

Published On:
Sep, 12 2018 08:21 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।