राजस्थान : संत के भतीजी से अवैध संबंधों का था शक, चाचा ने दे दी दर्दनाक मौत, सामने आया पूरा मामला

By: rohit sharma

Updated On: 10 Sep 2019, 06:35:43 PM IST

  • Illicit Relations Case in Rajasthan : खबर प्रदेश के हनुमानगढ़ जिले ( Hanumangarh News in Hindi ) के संगरिया से है। क्षेत्र के गांव संतपुरा समीप चक 3 AMP (B) से अवैध संबंधों ( Illict Relations ) के शक के चलते हत्या करने का मामला सामने आ रहा है।

हनुमानगढ़/संगरिया। कानून की सख्ती के बावजूद राजस्थान में लगातार अपराध बढ़ता ही जा रहा है। खबर प्रदेश के हनुमानगढ़ जिले ( Hanumangarh News in Hindi ) के संगरिया से है। क्षेत्र के गांव संतपुरा समीप चक 3 AMP (B) से अवैध संबंधों ( Illict Relations ) के शक के चलते हत्या करने का मामला सामने आ रहा है।

क्षेत्र में नाथ संप्रदाय के डेरा बाबा मोहननाथ के गद्दीनशीन संत अक्कलनाथ (70) उर्फ बीरबलराम की हत्या के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है। संत के चेले गुरदेव सिंह उर्फ़ देवनाथ ने ही संत की हत्या की थी। पुलिस ने शक के आधार पर देवनाथ को रिमांड पर लिया था।

इस दौरान पुलिस रिमांड के दौरान उसने कबूला कि उसे संत पर उसकी भतीजी के साथ अवैध संबंध होने का शक था। जिसके चलते उसने 12 जुलाई की रात को वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान देवनाथ ने ये भी कहा कि उसे इस बात का बिल्कुल भी पछतावा नहीं है।

आरोपी के कहे अनुसार - नोखा (बीकानेर) से डेरे में संत उनके साथ वापिस आए थे। आवेश व बदला लेने की भावना से रात को चारपाई पर सोने के बाद उसने संत के सिर पर फावड़े से ताबड़तोड़ वार कर उन्हें हमेशा की गहरी नींद में सुला दिया। बाद में डेरे के पीछे की दीवार के पास गड्ढा खोद कर गाड़ दिया। किसी को शक ना हो इसलिए बनसटियां व जलावन का सामान उस पर रख दिया। चारपाई को धोकर नई चद्दर बिछा दी और फावड़े को छुपा दिया। जानकारी मिली है कि आरोपी से बरामद हुई पिस्तौल दिवंगत संत का ही है।

उसके बाद वह संत के परिजनों व डेरे में आने वालों को बरगलाता रहा। किसी को संत के मुंबई तो किसी को भटिंडा चले जाने की बात कहता रहा। लेकिन उस पर संदेह की सुई घूमते देख वह मौके से ही फरार हो गया। गुमशुदगी दर्ज होने के बाद परिजन व पुलिस सक्रिय हो गई। 19 जुलाई को पुलिस ने बदहाल स्थिति में गड्ढे में दबा शव बरामद कर लिया।

Updated On:
10 Sep 2019, 06:35:42 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।