सुई से लेकर धागा तक और कागज से माचिस तक होगी उपलब्ध

By: Manoj Goyal

Updated On: Apr, 26 2019 12:44 PM IST

  • मतदान कर्मियों को नहीं रहना होगा किसी के भरोसे


    एक बैग 80 प्रकार की वस्तुओं से होगा लैस

     

    जिले भर के लिए 1450 बैग हो रहे हैं तैयार

     

    लोकसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग की तैयारियां

 

हनुमानगढ़. लोकसभा चुनाव को लेकर जिले में चुनावी तैयारियां तेजी से चल रही है। मतदान दलों को दिए जाने वाले मतदान सामग्री के बैग यहां जिला सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय और आत्मा परियोजना कार्यालय में तैयार किए जा रहे हैं। सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय में तीन विधानसभा क्षेत्रों हनुमानगढ़, नोहर औऱ भादरा विधानसभा क्षेत्र के बैग तैयार किए जा रहे हैं।

 

आत्मा परियोजना कार्यालय में पीलीबंगा और संगरिया विधानसभा क्षेत्र के बैग तैयार हो रहे हैं। मतदान दलों को दिए जाने वाले बैग की खास बात यह है कि इस बार मतदान दलों को चुनाव प्रक्रिया के दौरान जरूरत पडऩे वाली हर छोटी से बड़ी वस्तु का ध्यान रखा जा रहा है ताकि उन्हें चुनाव के दौरान कोई वस्तु बाहर से नहीं मांगनी पड़े। बैग में सुई-धागा से लेकर माचिस मौम बत्ती तक डाली जा रही है।


सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय में बैग तैयार कर रहे भादरा विधानसभा क्षेत्र के प्रभारी मनोज कुमार ने बताया कि एक बैग में अभी तक 80 विभिन्न सामग्री डाली जा रही है। जिसमें आलपिन, ईवीएम के लिए धागा, सेलो टेप, रबर बैंड, रबर रिजेक्शन सील, ब्रास सील, मोमबत्ती, गोंद, स्टाम्प पैड, अमिट स्याही, कीलें, ट्विन धागा, स्टांप स्याही, चपड़ी, कार्बन पेपर, व्हाइट पेपर, डमी बैलेट, मूंज की रस्सी, सूतली, धातू की पत्ती, मेडिकल किट, खाली सिगरेट टीन, प्लास्टिक का डिब्बा, चॉक, समेत चुनाव समाप्ति के बाद वीवीपैट की बैटरी संबंधी दिशा निर्देश, मोक पोल हिंदी और अंग्रेजी में, लिफाफे, पोस्टर समेत 22 प्रकार के फॉर्म, 22 प्रकार के ही लिफाफे, 5 प्रकार के पोस्टर, 5 प्रकार के कार्ड इत्यादि सहित 80 प्रकार की सामग्री बैग में डाली जा रही है।

 

मतदान सामग्री प्रकोष्ठ के आईओसी और जिला रसद अधिकारी अरविंद जाखड़ के अनुसार 1450 बैग तैयार किए जा रहे हैं। इसमें हनुमानगढ़ विधानसभा के लिए 258, नोहर के लिए 257, भादरा के लिए 249, पीलीबंगा के लिए 284 और संगरिया विधानसभा क्षेत्र के लिए कुल 228 बैग तैयार किए जा रहे हैं। इसके अलावा जोनल मजिस्ट्रेट के लिए 129, तहसील मुख्यालय प्रत्येक पर 5-5 और स्टोर रिजर्व के तौर पर 10 बैग तैयार किए जा रहे हैं। बैग भी तिरपाल का मजबूत है, ताकि कोई सामग्री खराब नहीं हो।

 

 

Published On:
Apr, 26 2019 12:44 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।