एक ही दिन में 4500 मामलों में समझौते से निपटाने का होगा प्रयास

By: Manoj Goyal

Published On:
Jul, 11 2019 12:20 PM IST

  • राष्ट्रीय लोक अदालत १3 को, 21 बैंच का गठन

    हनुमानगढ़ जिला मुख्यालय पर ग्यारह और नोहर, भादरा, पीलीबंगा, संगरिया, रावतसर और टिब्बी में दस बैंच करेंगी समझाईश

हनुमानगढ़. राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देश पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से 13 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन जिला मुख्यालय, भादरा, नोहर, रावतसर, पीलीबंगा, संगरिया एवं टिब्बी में किया जाएगा। इसके लिए 21 बैंच का गठन किया गया है। इसमें जिला मुख्यालय पर 11 बैंच, नोहर में तीन, भादरा एवं संगरिया में दो-दो, रावतसर, पीलीबंगा एवं टिब्बी में एक-एक बैंच का गठन किया गया है। इनमें ४५०० प्रकरणों में समझौते करवा कर फैसलें करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

 

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश विजय प्रकाश सोनी ने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में बताया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश ज्ञान प्रकाश गुप्ता एवं नोडल अधिकारी एडीजे सत्यपाल वर्मा के नेतृत्व और मार्गदर्शन में 13 जुलाई को सुबह दस बजे से चार बजे तक राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन एडीआर सेन्टर पर होगा। इसमें प्रि-लिटिगेशन प्रकरण, दाण्डिक शमनीय अपराध, धारा 138 एन.आई.एक्ट, बैंक रिकवरी मामले, एम.ए.सी.टी. मामले, पारिवारिक विवाद, श्रम विवाद, भूमि अधिग्रहण मामले, बिजली व पानी के बिल, मजदूरी भत्ते और पेंशन भत्तों से संबधित मामले, राजस्व मामलों एवं सिविल मामलों के प्रकरणों पर आपसी विचार विमर्श और समझाईश के बाद निर्णय होगा।


इसमें बैंच अध्यक्ष के रूप में न्यायिक अधिकारी होंगे और सदस्य के रूप में दो-दो अधिवक्ताओं को शामिल किया जाएगा। बैंच पक्षकारों के मध्य वार्ता कर राजीनामे से निर्णय करेगी। २१ बैंच में करीब 1500 प्रि-लिटिगेशन प्रकरण और न्यायालयों में विचाराधीन लगभग तीन हजार प्रकरणों पर चर्चा होगी।

Published On:
Jul, 11 2019 12:20 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।