महाराष्ट्र की जिम्मेदारी मिलते ही सिंधिया समर्थकों ने दिया बड़ा बयान

By: monu sahu

Updated On:
24 Aug 2019, 04:59:29 PM IST

  • मोदी सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 एवं 35 ए को समाप्त किए जाने के बाद पार्टी लाइन के विपरीत सिंधिया ने सरकार के इस कदम को देश हित में बताया

ग्वालियर। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को महाराष्ट्र में होने वाले विधानसभा चुनाव की स्क्रीनिंग कमेटी का चेयरमैन बनाए जाने के बाद उनके भाजपा में जाने की अटकलों पर विराम लग गया है। सिंधिया समर्थकों का मानना है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने सिंधिया को महाराष्ट्र की जिम्मेदारी देकर उनका राजनीतिक महत्व और बढ़ा दिया है।

बड़ी खबर : पुलिस छावनी बना प्रदेश का यह शहर, दहशत में लोग

 

मोदी सरकार द्वारा अनुच्छेद 370 एवं 35 ए को समाप्त किए जाने के बाद पार्टी लाइन के विपरीत सिंधिया ने सरकार के इस कदम को देश हित में बताया। उनके इस बयान से पार्टी में सनसनी फैल गई।

घूमने जा रहे चार दोस्तों को रास्ते से लौटा लाई मौत, खबर पढ़ कांप जाएगी आपकी रूह

इसके बाद प्रदेश महामंत्री सुनील शर्मा सहित अन्य नेताओं ने भी केन्द्र के इस कदम को देशहित में बताया। सिंधिया के इस बयान के बाद यह अटकलें लगाई जाने लगीं कि वह पार्टी में असहज महसूस कर रहे हैं और भाजपा में जा सकते हैं। इस पर सिंधिया समर्थक यह कहते रहे कि विरोधियों ने यह बात उड़ाई है।

चार माह पहले हुई थी इस कपल की शादी, मोबाइल की सिम ने जोखिम में डाल दी जान

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को जो सफलता मिली उसका श्रेय सिंधिया को दिया जा रहा था। उनके समर्थक चाहते थे कि सिंधिया को प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया जाए, लेकिन कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद सिंधिया समर्थकों को झटका लगा था। इसके बाद उन्हें प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की मांग भी उठी, लेकिन इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया।

दो महीने पहले हुई इस महिला की शादी, पति के साथ सफर में हो गई गायब

लोकसभा चुनाव में उन्हें पश्चिम उत्तरप्रदेश का प्रभारी बनाया गया था,लेकिन लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को जो शिकस्त मिली उससे पूरी कांग्रेस हिल गई,जो अभी तक उबर नहीं पाई है। राहुल गांधी द्वारा अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने के बाद समर्थकों ने सिंधिया को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की मांग कर दी। कहा यह भी जा रहा है कि इस मांग के कारण ही सिंधिया को महाराष्ट्र भेजा गया है।

1000 साल पुराने इस मंदिर में शाम के बाद नहीं रूकता कोई, रात में दिखता है ये नजारा

भाजपा में जाने की बातें भ्रामक
सिंधिया समर्थक विधायक मुन्नालाल गोयल का कहना है कि हाल ही में सोशल मीडिया पर सिंधिया के भाजपा में जाने की जो बातें उड़ाई गईं वह भ्रामक थीं। यह उनके खिलाफ दुष्प्रचार था। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की जिम्मेदारी मिलना अच्छी बात है।

Updated On:
24 Aug 2019, 04:59:29 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।