सफाई के नाम पर 6 गुना कर दी है राशि फिर भी सफाई नहीं, डीआरएम ने किया ग्वालियर रेलवे पर भ्रमण

By: Gaurav Sen

Updated On: 24 Aug 2019, 12:12:07 PM IST

  • पार्किंग, सर्कुलेटिंग एरिया, प्रतीक्षालय, सीसीटीवी निगरानी कक्ष में जो खामियां दिखी उसे दुरस्त कराने के भी निर्देश दिए

ग्वालियर.रेलवे स्टेशन की सफाई का ठेका छह गुना बढ़ाए जाने के बाद भी व्यवस्थाओं में खामियां है। ग्वालियर दौरे पर आए मंडल रेल प्रबंधक (डीआरएम) संदीप माथुर प्लेटफॉर्म-4 पर आरक्षित कार्यालय की बिल्डिंग के बगल में आए तो कचरे का ढेर देख नाराज हुए। कारण पूछा तो जिम्मेदार अधिकारी एक दूसरे पर टालने लगे। यह देख डीआरएम भडक़ गए। उन्होंने कहा आप लोगों को नहीं मालूम तो किसे पता होगा। उन्होंने कचरे के ढेर हटाने के निर्देश दिए। वहां नर्सरी प्लान करने को कहा। इस पर स्टेशन प्रबंधन ने कहा आज ही कचरे को हटवा देंगे। इसके अलावा पार्किंग, सर्कुलेटिंग एरिया, प्रतीक्षालय, सीसीटीवी निगरानी कक्ष में जो खामियां दिखी उसे दुरस्त कराने के भी निर्देश दिए।

जवाब नहीं दे सके अधिकारी
डीआरएम के आने की खबर पर गुरुवार से ही स्टेशन पर सफाई के लिए कर्मचारी जुटे थे। फिर भी डीआरएम को कई खामियां दिखीं। प्लेटफॉर्म नंबर चार के बाहर डीलक्स शौचालय के बाहर पानी भरा देखा तो संबधित अधिकारी से निकासी के बारे में पूछा, लेकिन वह ठीक जवाब नहीं दे सके। हालांकि कुछ जगह पर सफाई को देख संतुष्ट दिखे। उन्होंने जनरल और वीआईपी प्रतीक्षालय में बैठे यात्रियों से भी फीडबैक लिया। इस दौरान कमसम रेस्टोरेंट व जनता खाना को भी चेक किया। इस दौरान चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर आरवीएनएल अतुल निगम, वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक डॉ. जितेंद्र कुमार, वरिष्ठ सिग्नल व दूरसंचार इंजीनियर निर्मोद कुमार, आदि अधिकार उपस्थित थे।

कैमरे बंद मिले
डीआरएम सीसीटीवी कक्ष में गए तो कुछ कैमरे बंद थे, जब उन्होंने आरपीएफ टीआई से कैमरे की क्वालिटी के बारे में पूछा तो उन्होंने बताया कि जूम करने पर फोटो फट जाता है। इस बात को उन्होंने रेलवे अधिकारियों को नोट भी कराया।

फिर भी लापरवाही
प्लेटफॉर्म-एक पर बिजली बोर्ड से निकल रहे तार खुले थे तो कहीं टेप नहीं लगाया था। डीआरएम ने कहा कि अभी कुछ दिन पहले ही स्टेशन पर आगजनी की घटना हुई है। इसके
बाद भी लापरवाही है। इसे दुरस्त कराया जाए।

रायरू रेल खंड का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण किया
डीआरएम ने रायरू रेल खंड का विंडो ट्रेलिंग निरीक्षण किया। विंडो ट्रेलिंग एक विशेष निरीक्षण होता है, जिसमें रेल पथ एवं उसके पास के सभी इंस्टांलेशन जैसे सिग्नल, ओएचई, प्लेटफॉर्म का चलती हुई गाड़ी में लगे निरीक्षण यान की पिछली खिडक़ी से निरीक्षण किया जाता है। इसमें झांसी-ग्वालियर के मध्य तीसरी लाइन की प्रगति के साथ निरीक्षण के दौरान मार्ग में पडऩे वाले स्टेशनों की सफाई एवं अन्य व्यवस्थाओं राइडिंग क्वालिटी विशेष तौर से प्वॉइंट एवं क्रॉसिंग पर ट्रैकज्योमेट्री इंडेक्स में सुधार, ओएचई की स्थिति, मार्ग के लेवल क्रॉसिंग गेटों की स्थिति, मार्ग में आने वाले माइनर व मेजर ब्रिज का अवलोकन किया जाता है।

इन्हें भी दुरस्त कराने को कहा

  • पड़ाव पुल उतरते ही स्टेशन के इंट्री गेट पर लगे टूटे बोर्ड को दुरस्त कराएं व अन्य विज्ञापन बोर्ड हटवाएं।
  • प्लेटफॉर्म-चार के बाहर डीलक्स शौचालय के पास खुली पड़ी जमीन में गंदगी हटाकर वहां सफाई कराएं।
  • प्लेटफॉर्म-एक पर शौचालय के बोर्ड को बाहर लगाएं।
  • उच्च श्रेणी प्रतीक्षालय (महिला) में ट्रेनों की जानकारी देने वाला डिस्प्ले बोर्ड बंद मिला। उसे चालू कराएं।
  • पार्सल कार्यालय में कबाड़ा हटाकर सफाई कराएं
  • प्लेटफॉर्म-एक के बाहर टूटा कूड़ादान हटाएं

Updated On:
24 Aug 2019, 12:12:06 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।