इतने मंहगे दाम पर बिकी "गोल्डन नीडल्‍स चाय" कि बन गया विश्व रिकार्ड,जाने क्या है इस चाय की खासियत

By: Prateek Saini

Published On:
Aug, 24 2018 04:07 PM IST

  • यह चाय गुवाहाटी के सबसे पुराने चाय विक्रेता असम टी ट्रेडर्स ने खरीदी...

(पत्रिका ब्यूरो,गुवाहाटी): एक महीने में दूसरी बार गुवाहाटी चाय नीलाम केंद्र (जीटीएसी) में एक किलो चाय चालीस हजार रुपए के रिकार्ड दामों पर बिकी है। चाय की कीमत का यह अब तक विश्व रिकार्ड है। इस चाय का उत्पादन अरुणाचल प्रदेश स्थित डोनी पोलो टी एस्टेट ने किया है। इस चाय का नाम गोल्डन नीडल्‍स है। जीटीएसी में 24 जुलाई को असम के डिब्रुगढ़ जिले के मोहनबाड़ी चाय बागान की उत्पादित चाय भी प्रति किग्रा रिकार्ड कीमत 39,001 रुपए में बिकी थी। जब डोनी पोलो चाय बागान की उत्पादित चाय नीलाम केंद्र पर 40,000 प्रति किग्रा की दर से बिकी तो जीटीएसी का पहला रिकार्ड ही टूट गया। यह चाय गुवाहाटी के सबसे पुराने चाय विक्रेता असम टी ट्रेडर्स ने खरीदी।


असम टी ट्रेडर्स के मालिक ललित कुमार जालान ने कहा कि अच्छी चाय की मांग खूब है। हम नियमित रुप से अच्छी क्वालिटी की चाय बेचते हैं। गोल्डन नीडल्‍स चाय को ऑनलाइन प्लेटफार्म पर बेचा जाएगा। गोल्डन नीडल्स चाय को नए अंकुरित पत्तियों से बनाया जाता है। चीन का यूआन प्रदेश,जो कि अरुणाचल सीमा के पूर्व में स्थित है,को गोल्डन टिप टी का उद्गस्थल माना जाता है।


यह खासियत है चाय में

इस किस्म की चाय की कली छोटी होती है। इन्हें बड़ी सावधानी से तोड़ा जाता है। पत्तियों पर गोल्डन परत रहती है। पत्तियां नरम और मुलायम होती हैं। इन चाय पत्तियों से बनी चाय स्वाद में मीठी और सुगंधित होती है। डोनी पोलो टी बागान के मैनेजर मनोज कुमार ने बताया कि इस तरह की चाय बनाने में काफी मेहनत करनी पड़ती है। पहले सिल्वर नीडल्स सफेद चाय की कीमत प्रति किग्रा 17,001 रुपए तक मिली है। जीटीएसी के सचिव दिनेश बिहानी का कहना था कि विशेषता वाली चाय ज्यादा उत्साह जगानेवाली है। विशेष तरह की चाय से हम विश्व बाजार में फिर से पुराना मुकाम हासिल कर पाएंगे। हम उन चाय उत्पादकों को धन्यवाद देना चाहते हैं जो काफी मेहनत से बेहतरीन क्वालिटी की चाय का उत्पादन कर रहे हैं।

Published On:
Aug, 24 2018 04:07 PM IST