ईरान: युनाइटेड किंगडम के लिए जासूसी के जुर्म में एक शख्स को 10 की कैद

By: Anil Kumar

Updated On: May, 14 2019 07:06 AM IST

    • अभी तक आरोपी की पहचान का खुलासा नहीं हो सका है।
    • आरोपी के परिवार ने मई 2018 में माना था कि जासूसी करने का आरोप लगाया गया है।
    • इस मामले पर ब्रिटिश दूतावास अधिक जानकारी के लिए ईरान सरकार से संपर्क में है।

     

तेहरान। ईरान ( Iran ) ने एक नागरिक को युनाइटेड किंगडम ( United Kingdom ) के लिए जासूसी करने के जुर्म में दस साल कैद की सजा सुनाई है। न्यायपालिका के प्रवक्ता गुलाम हुसैन इस्माइली ने सरकारी टेलीविजन पर कहा कि 'आरोपी ब्रिटिश कौंसिल में ईरान डेस्क प्रभारी ने ब्रिटिश खुफिया विभाग से सहयोग की बात स्वीकार की है।' बीबीसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि अधिकारी ने इस व्यक्ति की पहचान का खुलासा नहीं किया, लेकिन मार्च 2018 को ईरान में लंदन स्थित ब्रिटिश कौंसिल की कर्मचारी व कला विद्यार्थी अरस अमीरी को गिरफ्तार किया गया था।

सऊदी अरब के तेल टैंकरों पर यूएई तट के पास हमला, ईरान और अमरीका ने एक-दूसरे पर लगाए आरोप

अधिक जानकारी के लिए ईरान सरकार से संपर्क में ब्रिटिश दूतावास

अमीरी के रिश्तेदार ने मई 2018 में कहा था कि उस पर 'राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ काम करने का' आरोप लगाया गया है। यूके एक अन्य महिला ब्रिटिश-ईरानी नागरिक नाजनीन जगारी-रैटक्लिफ की तेहरान स्थित जेल से रिहाई के प्रयासों में लगा हुआ है। इन पर भी जासूसी का आरोप लगा है जिससे उन्होंने इनकार किया है। यूके के सांस्कृतिक संबंधों व शिक्षा अवसरों के अंतर्राष्ट्रीय संगठन ब्रिटिश कौंसिल ने बीते साल कहा था कि उसकी एक कर्मचारी को ईरान में हिरासत में लिया गया है जो निजी यात्रा पर वहां गई थी। कौंसिल मुख्य कार्यकारी किआरन देवाने ने सोमवार को कहा, 'हमने इस आशय की रिपोर्ट देखी हैं कि एक ईरानी नागरिक को, जिसे ब्रिटिश कौंसिल कर्मचारी बताया गया है, सजा हुई है। लेकिन, हम इस बात की पुष्टि नहीं कर सकते कि कर्मचारी का संबंध कौंसिल से है।’ विदेश एवं राष्ट्रमंडल कार्यालय ने कहा, 'तेहरान ( Tehran ) में ब्रिटिश दूतावास के अधिकारी मामले में विस्तृत जानकारी लेने के लिए ईरान सरकार के संपर्क में हैं।'

 

 

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर. विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर.

Published On:
May, 14 2019 12:10 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।