गोरखपुर में मच गया हड़कंप जब टीम ने छापेमारी कर जब्त किए बेनामी 45 लाख रुपये

By: Dheerendra Vikramadittya

Published On:
Apr, 13 2019 03:08 AM IST

  • Raid

गोरखपुर के व्यापारिक हलकों में शुक्रवार को अफरातफरी मच गई। केंद्रीय वस्तु एवं सेवाकर की टीम ने एक साथ एक पान मसाला फर्म के दस ठिकानों पर छापेमारी की। इस छापेमारी के बाद व्यापारी सकते में आ गए। पान मसाला फर्म के दस ठिकानों के दस्तावेज खंगालने के साथ ही टीम ने दस्तावेज, इलेक्ट्रानिक उपकरण के अलावा 45 लाख रुपये भी सीज किए हैं। फर्म के प्रोपराइटर ने एक करोड़ रुपये कर के रूप में भी जमा किया। केंद्रीय वस्तु एवं सेवाकर के अधीक्षक अरविंद ने बताया कि फर्म में प्रथम दृष्टया करीब ढाई करोड़ रुपये की कर चोरी सामने आई है, विधिवत जांच में रकम बढ़ भी सकती है।
शुक्रवार को शहर के एक पान मसाला फर्म के दस ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की गई। फर्म का कामकाज देखने वाले दो लोगों के जटेपुर स्थित आवासों, तेनुआ के पास स्थित आॅफिस और खूनपुर व घासीकटरा के प्रतिष्ठानों पर एक साथ केंद्रीय वस्तु एवं सेवाकर की टीम ने जांच शुरू किया।
वाराणसी के संयुक्त आयुक्त आशुतोष की अगुवाई में टीम ने सुबह सवेरे जांच की शुरूआत की। पान मसाला फर्म की दो दुकानों से करीब 45 लाख रुपये बरामद किए। इस रकम के दस्तावेज नहीं होने की वजह से इनको जब्त कर लिए गए। टीम के मुताबिक बड़े स्तर पर कर चोरी का मामला सामने आने के बाद तमाम दस्तावेज जब्त कर लिए गए हैं। फर्म की ओर से एक करोड़ रुपये टैक्स के जमा भी कराए गए।
उधर, टैक्स टीम की इस कार्रवाई से आसपास के व्यापारिक प्रतिष्ठानों में अफरातफरी मच गई। धड़ाधड़ दुकानें बंद हो गई। एक दूसरे के फोन घनघनाने लगे। हालांकि, व्यापारियों को उस वक्त इत्मीनान हुआ जब यह पता लगा कि एक चिंहित फर्म के ही ठिकानों पर कार्रवाई की जा रही है।

 

Published On:
Apr, 13 2019 03:08 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।