Video: धार्मिक स्थल के सामने से अतिक्रमण हटाने को लेकर दो समुदाय आमने-सामने, BJP पार्षद पति को पीटा

By: lokesh verma

Published On:
Jun, 17 2019 12:29 PM IST

  • खबर के मुख्य बिंदू-

    • गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाना क्षेत्र की ज्ञानखंड-4 कॉलोनी का मामला
    • हिंदू संगठन और समुदाय विशेष के लोग आए आमने-सामने, पुलिस सुलझाया विवाद
    • धार्मिक स्थल के सामने से अवैध कब्जा हटाने को लेकर शुरू हुआ था विवाद

गाजियाबाद . थाना इंदिरापुरम इलाके की पॉश कॉलोनी ज्ञानखंड-4 में रविवार को दो समुदाय के लोग एक धार्मिक स्थल को लेकर आमने-सामने आ गए। देखते ही देखते तनाव बढ़ता चला गया और कई हिंदू संगठन के कार्यकर्ता भी मौके पर पहुंच गए। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही आला अधिकारी कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और जैसे-तैसे दोनों समुदायों के बीच टकराव होने से रोका। मौके पर तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- राजकीय बाल सुधार गृह में तीन किशोरों ने किया ऐसा काम कि हिल गया पूरा प्रशासन, देखें वीडियो

ghaziabad

दरअसल, गाजियाबाद की इंदिरापुरम थाना क्षेत्र की ज्ञानखंड-4 कॉलोनी में बने एक धार्मिक स्थल के सामने खाली पड़ी जमीन को शनिवार को गाजियाबाद विकास प्राधिकरण खाली करा रहा था। धार्मिक स्थल के लोगों ने आरोप लगाया कि बिना किसी नोटिस के जमीन खाली कराई जा रही है। इसके विरोध में समुदाय विशेष के लोगों ने जमकर विरोध किया। जबकि गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के अधिकारियों का कहना है कि धार्मिक स्थल के सामने पड़ी जमीन सरकारी है, जिस पर अवैध कब्जा किया जा रहा है। इस बात को लेकर समुदाया विशेष के लोगों और जीडीए की टीम के बीच टकराव भी हुआ। इसके बावजूद जीडीए ने धार्मिक स्थल के सामने खाली पड़ी सरकारी जमीन पर लगाए गए खंबे और बैरिगेटिंग को तोड़ दिया। साथ ही जेसीबी से वहां खुदाई भी करा दी गई।

यह भी पढ़ें- Exclusive: घर से चाेरी कर 20 हजार में बेचे गए मासूम काे पुलिस ने महज एक घंटे में किया बरामद, जानिए कैसे

भाजपा पार्षद पति को पीटा

बताया जा रहा है कि विरोध के बाद जीडीए पूरी तरह जमीन पर कब्जा नहीं कर पाया और जीडीए कर्मचारी और अधिकारी वापस जाने लगे। इसी बीच मौके पर वार्ड-87 के भाजपा पार्षद पति श्लेक त्यागी भी मौके पर पहुंच गए। उन्होंने सरकारी जमीन को पूरी तरह खाली कराए जाने के लिए जीडीए कर्मचारी और अधिकारियों पर दबाव बनाया। इस दौरान पार्षद पति की जीडीए के कर्मचारियों और मौके पर मौजूद तहसीलदार संजय सिंह के साथ नोक-झोंक हो गई। आरोप है कि तहसीलदार संजय सिंह ने पार्षद पति की पिटाई की। वहीं पार्षद पति पर आरोप है कि वह नशे की हालत में थे। इसके बाद कुछ हिंदू संगठन पार्षद पति के पक्ष में आ गए और स्थिति तनावपूर्ण होती चली गई।

यह भी पढ़ें- VIDEO: पति-पत्नी के बीच विवाद सुलझाने के लिए बुलाई पंचायत, लेकिन तभी एक पक्ष ने कर दी ताबड़तोड़ फायरिंग

ghaziabad

हिंदू संगठन और समुदाय विशेष के लोग आए आमने-सामने

अगले दिन रविवार को कई हिंदू संगठन के लोग बड़ी संख्या में एकत्रित होकर ज्ञान खंड-4 पहुंच गए। इसकी जानकारी मिलते ही समुदाय विशेष के लोग भी बड़ी संख्या में इकट्ठा हो गए। पुलिस की मौजूदगी में दोनों समुदायों के बीच टकराव की स्थिति बन गई। जिसकी सूचना पर पुलिस के आला अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। इस दौरान एसपी सिटी श्लोक कुमार ने मौके का जायजा लेते हुए दोनों समुदाय के लोगों को समझाने का प्रयास किया। फिलहाल दोनों समुदाय के बीच टकराव टल गया है, लेकिन स्थिति अभी भी तनावपूर्ण बनी हुई है। एहतियातन मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स को तैनात कर दिया गया है।

मैं नशे की हालत में नहीं था- पार्षद पति श्लेक त्यागी

भाजपा पार्षद पति श्लेक त्यागी का कहना है कि मैं नशे की हालत में नहीं था। मौके से जीडीए कर्मचारियों ने थोड़ा सा अतिक्रमण हटाकर इतिश्री कर ली थी। मैंने केवल जीडीए कर्मचारियां से पूरी तरह अतिक्रमण हटाने की बात कही थी, जिसे लेकर तहसीलदार औरजीडीए कर्मचारी भड़क गए और मुझे पीटा गया।

यह भी पढ़ें- VIDEO: ईद पर 100 लड़कों को गले लगाकर बधाई देने वाली युवती के साथ मारपीट

माहौल बिगाड़ने का प्रयास, पुलिस ने किया अच्छा काम

इस मामले में मस्जिद कमैटी के सदस्य माजिद अली खान का कहना है कि जीडीए की टीम कब्जा हटाने पहुंची थी। इसका मस्जिद से कोई लेना-देना नहीं है। भाजपा पार्षद पति ने बेवजह माहौल बिगाड़ने का प्रयास किया था, लेकिन पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों से बातचीत के बाद मामले को सुलझा दिया है। फिलहाल माहौल शांतिपूर्ण है।

जीडीए अधिकारियों ने लगाए सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप

वहीं इस मामले में एसपी सिटी श्लोक कुमार ने बताया कि जीडीए अधिकारियों ने थाना इंदिरापुरम क्षेत्र में सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में कई अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। जीडीए अधिकारियों ने मारपीट के मामले को बेबुनियाद बताया है। वहीं भाजपा पार्षद पति श्लेक त्यागी ने इमरान उर्फ राजी, अकबर और नाजिर के साथ जीडीए के अधिकारी व कई कर्मचारियों पर मारपीट का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। फिलहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। इलाके में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है, जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Published On:
Jun, 17 2019 12:29 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।