EESL कंपनी सस्ते में बेच रही 5 स्टार AC, बिजली की भी खपत होगी कम

By: Vishal Upadhayay

Updated On:
11 Jul 2019, 04:35:01 PM IST

    • मोदी सरकार सस्ते में बेच रही AC
    • यह सरकारी AC 30% कम करती है बिजली की खपत
    • इस सरकारी AC की कीमत 41,300 रुपये है

नई दिल्ली: मोदी सरकार बिजली बचाने के लिए कई काम कर रही है। अपने पहले कार्यकाल में मोदी सरकार ने बिजली की खपत कम करने के लिए सबसे पहले LED बल्ब, उसके बाद एलईडी ट्यूबलाइट और पंखे लेकर आई थी। मालूम हो eesl वही सरकारी कंपनी है जिसने देश के कई घरों में सस्ता LED बल्ब और ट्यूबलाइट उपलब्ध कराया था। अब कंपनी का लक्ष्य घर-घर सस्ता एसी पहुंचाने का है। कंपनी का यह एसी सस्ता होने के साथ बिजली की खपत भी कम करता है। यह ऐसी बाजार में पहले से मौजूद 5 स्टार एसी के मुकाबले 30% बिजली की खपत कम करेगा।

गर्मी आते ही देश में AC और उससे पैदा होने वाली बिलजी की खपत बढ़ जाती है। वहीं, हम से कई ऐसे लोग हैं जो बजट ना हो पाने के कारण एसी नहीं खरीद पाते हैं। साथ ही कई ऐसे भी लोग हैं, जो बिजली का बिल ज्यादा होने के कारण एसी नहीं खरीदते हैं। इसी समस्या को देखते हुए सरकारी कंपनी EESL ने भारतीय बाजार में सस्ता एसी पेश किया है।

EESL की वेबासइट पर इस एसी को 41,300 रुपये में बिक्री के लिए लिस्ट किया गया है। ग्राहक इस एसी को एचडीएफसी ( HDFC ) बैंक के क्रेडिट कार्ड के इस्तेमाल ईएमआई ऑप्शन पर भी खरीद सकते हैं। ऐसा करने पर उन्हें बैंक कि तरफ से 1,000 रुपये का इंस्टेंट डिस्काउंट मिलेगा। कंपनी की माने तो बाजर में पहले से मौजूद 3 स्टार एसी के मुकाबले इस 5 स्टार एसी की कीमत कम है। फिलहाल इस ऐसी को ऑनलाइन ही बेचा जा रहा है। यह अभी रिटेल मार्केट में उपलब्ध नहीं है।

यह सरकारी एसी 1.5 टन वजन वाला है। इसकी इंनर्जी रेटिंग BEE 5 स्टार है और यह 1 साल की वारंटी के साथ आता है। बता दें Voltas कंपनी के द्वारा इस एसी को उपलब्ध कराया जा रहा है। इसके अलावा इसे Discom के साथ मिल करके भी बेचने का लक्ष्य रखा गया है। बता दें EESL ने सस्ते ट्यूबलाइट और पंखे को बेचने का काम बिजली देने वाली कंपनी Discom के साथ मिल कर किया था। रिपोर्ट की माने तो इस साल दिवाली तक 50,000 कंज्यूमर तक सस्ते एसी पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं, कंपनी ने अगले साल तक 2 लाख लोगों को एसी बेचने का टारगेट रखा है।

Updated On:
11 Jul 2019, 04:35:01 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।