सुहागनगरी में दो माह बाद सड़क पर लौटी जिंदगी, पहली बार शाम पांच बजे तक खुलेगा बाजार

By: arun rawat

|

Updated: 02 Jun 2020, 11:43 AM IST

Firozabad, Firozabad, Uttar Pradesh, India

फिरोजाबाद। कोरोना वायरस को लेकर किए गए लॉक डाउन के बीच जिंदगी की रफ्तार थम सी गई थी लेकिन दो माह बाद अब जिंदगी पुराने ढर्रे पर लौटने लगी है। फिरोजाबाद में प्रशासन ने बाजार खोलने की छूट तो दे दी लेकिन लोग न के बराबर ही बाहर निकल रहे हैं। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में जिंदगी सरल हो जाएगी।

यह भी पढ़ें—

चचेरे भाई के बेटों के नाम दो बीघा जमीन का बैनामा करने पर भतीजे ने की ताऊ की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या, आरोपी फरार

passenger

बस सेवा हुई शुरू
लाॅकडाउन के दो माह बाद सुहागनगरी में बसों का आवागमन शुरू हो गया। सुबह यात्री बस स्टेंड पहुंचें। जहाॅ बस कंडेक्टर द्वारा उनकी पहले थर्मल स्क्रीनिंग एवं हाथों को सैनीटाइज कराया गया। उसके बाद ही बस के अंदर प्रवेश दिया गया। शिकोहाबाद डिपो की बस आगरा, नोएडा-दिल्ली, आगरा फोर्ट की बस इटावा-औरेया, मथुरा डिपो की बस शिकोहाबाद-मैनपुरी, इटावा डिपो आगरा से इटावा, ताज डिपो फिरोजाबाबाद से आगरा-मथुरा की ओर रवाना हुई। बसों में लगभग 30 से 35 यात्रियों को सवार किया गया। जिससे सरकार की गाइड लाइन को पूरी तरह पालन किया जा सके। इसी बीच ट्रेन सेवा भी प्रारंभ होने से आवागमन में परेशानी भी कम हो गई है।

बाजार में खुली सभी प्रकार की दुकानें
फिरोजाबाद शहर में कम ही बाजार खोला गया है लेकिन शिकोहाबाद और टूंडला तहसील को सुबह नौ से शाम पांच बजे तक खोलने के निर्देश संबंधित एसडीएम द्वारा कर दिए गए हैं। बाजार खुलने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली है। जहां सड़कों और बाजारों में सन्नाटा पसरा रहता था। वहां अब दुकानें खुलने से सबकुछ पहले जैसा लगने लगा है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।