अब आर्टिफिशियल फूलों से भी आएगी खुशबू, जानिए कहां से खरीद सकते हैं?

By: Sunil Sharma

Published On:
Oct, 03 2018 10:13 AM IST

  • रिटेलर व्यक्तिगत रूप से नकली फूल और पहले से तैयार बुके व पौधे बेच रहे हैं। यह फूल फूले हुए पॉलियस्टर और पोली को मिलकर तैयार किए जाते हैं।

जब अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा एक कोरियर अधिकारी के यहां डिनर के लिए गुड़हल के फूलों की माला चाहती थीं। लेकिन ताजी कलियां धागे में पिरोए जाने के लिए बेहद कोमल थीं। तब आर्टिस्ट लिविया ने उनके लिए कागज के खूबसूरत गुड़हल तैयार किए। ये फूल ताजे दिख रहे थे।

पिछले कुछ सालों में ग्राहकों ने आर्टिफिशियल फूलों को बेहद प्यार के साथ स्वीकार किया है। डेकोरेटर्स और डिजाइनर्स अपने प्रोजेक्ट्स के लिए इनका इस्तेमाल कर रहे हैं। रिटेलर व्यक्तिगत रूप से नकली फूल और पहले से तैयार बुके व पौधे बेच रहे हैं। यह फूल फूले हुए पॉलियस्टर और पोली को मिलकर तैयार किए जाते हैं। इन्हें आप ऑनलाइन खरीद सकते हैं या फिर अपने निकटस्थ फ्लावर शॉप से भी खरीद सकते हैं।

इंटरनेशनल ब्रांड पॉटरी बार्न भी नकली फूल तैयार करती है। इसकी एक्जिक्यूटिव व वाइस प्रेजिडेंट ऑफ डिजाइन, मोनिका भार्गव सैन फ्रेंसिस्को के अपने ऑफिस में हमेशा असली फूलों के साथ नकली महकदार गुलाब अपनी मेज पर सजाती हैं। ये फूल असली फूलों की तुलना में ज्यादा समय तक बने रहते हैं।

मोनिका बताती हैं- ये कम पैसों में उपलब्ध हैं। फूलों के गुलदस्ते के अलावा एक सिंगल टहनी भी मौजूद है। इन नकली फूलों को ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं है, न ही पानी देना पड़ता है। सिंथेटिक कपड़े से तैयार इन फूलों पर उतनी धूल नहीं जमती है, तो बार-बार साफ नहीं करना पड़ता।

महीनों तक संजोया जा सकता है इन्हें

  • घर सजाने को आर्टिफिशियल फूल सबसे अच्छा विकल्प हैं। क्योंकि ये न तो मुरझाते हैं और न ही सूखकर झड़ते हैं।
  • दिखने में ये असली जैसे दिखाई देते हैं और थोड़े सस्ते भी हैं।
  • इन्हें महीनों तक संजोया जा सकता है। आर्टिफिशियल फूलों में सेंट मशीनें भी फिट होने लगी है, जिन्हें ऑन करते ही फूलों से खुशबू निकलनी शुरू हो जाती है।
  • अलग तरह के कपड़ों का इस्तेमाल करके भी ये फूल बनते हैं। काफी आकर्षक रंगों और डिजाइनों में ये उपलब्ध हैं। वॉशेबल होने के कारण गंदा होने पर इन्हें धोया भी जा सकता है।

Published On:
Oct, 03 2018 10:13 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।