प्रागः राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अपनी विदेश यात्रा के अंतिम चरण में बुल्गारिया से चेक गणराज्य पहुंच गए हैं। जहां पर उनको गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। इस दौरान चेक गणराज्य के राष्ट्रपति भी मौजूद रहे। इसके बाद राष्ट्रपति कोविंद ने भारतीय समुदाय को भी संबोधित किया। उन्होंने कहा कि भारत और चेक गणराज्य के बीच संबंध काफी पुराने रहे हैं। राष्ट्रपति ने कहा कि दोनों देशों के बीच निवेश, व्यापार और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने यहां पर साल 1934 में इंडो-चेक एसोसिएसन प्राग की स्थापना की और नेता जी ने यहां पर कुछ वक्त भी बिताया था।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।