JEE Main 2019 : रजिस्ट्रेशन के लिए आधार जरूरी नहीं

Jameel Khan

Publish: Sep, 12 2018 01:23:57 PM (IST) | Updated: Sep, 12 2018 01:23:58 PM (IST)

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) ने एक अधिसूचना जारी कर कहा है कि जेईई मुख्य परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए 12 अंकों के आधार नंबर देने की जरुरत नहीं है।

राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) ने एक अधिसूचना जारी कर कहा है कि जेईई मुख्य परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए 12 अंकों के आधार नंबर देने की जरुरत नहीं है। केंद्रीय मानव संसाधन विकास के उच्च शिक्षा विभाग के अधीन काम करने वाले एनटीए ने हाल ही में जेईई मेन और यूजीसी नेट के लिए Registration प्रक्रिया शुरू कर दी है और यह प्रक्रिया 30 सितंबर तक चलेगी। JEE Main 2019 अगले साल 6 से 20 जनवरी तक आयोजित की जाएगी।

NTA ने यह स्पष्टीकरण उन सवालों को लेकर जारी किया है जिनमें पूछा गया था कि क्या UGC-NET दिसंबर, 2018 के आवेदन पत्र भरते समय आधार संख्या देना अनिवार्य है। एनटीए ने स्पष्टीकरण में आगे कहा है कि यह साफ किया जाता है कि फॉर्म में पहचान डालने के लिए कहा गया है। पहचान के रूप में आधार नंबर भी एक विकल्प है, लेकिन इसे देना अनिवार्य नहीं है।

नोटिफिकेशन में आगे कहा गया है कि आवेदनकर्ता पहचान के रूप में पासपोर्ट, राशन कार्ड, बैंक खाता संख्या या सरकार की ओर से जारी अन्य कोई पहचान पत्र की जानकारी भर सकता/सकती है। एनटीए ने यह भी कहा है कि वर्तमान में भरे जा रहे ऑनलाइन फॉर्म में भी कोई भी वैध सरकारी पहचान संख्या डाली जा सकती है।

जेईई मेन 2019 और यूजीसी नेट 2018 के लिए पंजीकरण प्रक्रिया एनटीए की आधिकारिक वेबसाइट nta.ac.in पर आयोजित की जाएगी।

 

चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की जांच पूरी, काउंसलिंग 16 से
तृतीय श्रेणी लेवल-२ के शिक्षकों की 26 हजार पदों पर भर्ती के लिए जिला परिषदों में चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की जांच पूरी कर ली गई है। अब 16 सितम्बर से पदस्थापन के लिए काउंसलिंग होगी। राज्य में सेटअप परिवर्तन के बाद ही कुल रिक्त पदों की संख्या 33 हजार से ज्यादा है। काउंसलिंग के बाद इन पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी। प्रारंभिक शिक्षा में रिक्त पदों की संख्या 11 हजार ही बताई जा रही है।

चयनित अभ्यर्थियों को आशंका है कि जिलों में रिक्त पदों की संख्या कम है। स्थानान्तरण से शिक्षकों के पद भर गए हैं। भर्ती के लिए स्वीकृत पद ज्यादा हैं। ऐसे में नियुक्ति को लेकर संशय है। शिक्षा निदेशालय के अनुसार राज्य में प्रारंभिक एवं माध्यमिक शिक्षा में सेटअप परिवर्तन के बाद कुल रिक्त पदों की संख्या 33 हजार से ज्यादा है। जिलेवार पदों की समीक्षा कर ली गई है। सात-आठ जिलों में अंग्रेजी के पद कम रिक्त हैं। इसका समाधान कर लिया गया है।

-भर्ती के स्वीकृत पदों पर काउंसलिंग के बाद नियुक्ति दे दी जाएगी। श्याम सिंह राजपुरोहित, निदेशक, प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर

More Videos

Web Title "JEE Main 2019 : For filling form, Aadhaar not mandatory"