CBSE: बोर्ड का बड़ा कदम, बच्चों के लिए लागू हुआ नया नियम

By: Sunil Sharma

Updated On:
10 Sep 2019, 01:20:58 PM IST

  • CBSE: शिक्षण संस्थानों में हेल्थ व फिजिकल एजुकेशन होगी अनिवार्य, सभी स्कूलों को भेजा परिपत्र

CBSE: केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने शिक्षण संस्थानों में हेल्थ व फिजिकल एजुकेशन को बढ़ावा देने के लिए बड़ा कदम उठाया है। सीबीएसई ने सैकेण्डरी और सीनियर सैकेण्डरी कक्षाओं में हेल्थ और फिजिकल एजुकेशन को अनिवार्य विषय के कैटेगरी में डाला है। अब इन दोनों विषयों का रोजाना पीरियड लगाना अनिवार्य होगा। बोर्ड प्रबंधन का मानना है कि इससे विद्यार्थियों की सेहत बेहतर रहने के साथ ही वे खेलकूद प्रतियोगिताओं में भी सहज रूप से सहभागिता कर सकेंगे।

इस संबंध में सीबीएसई बोर्ड ने संस्था प्रधानों को एक परिपत्र भी जारी किया है। सीबीएसई के अनुसार डिफरेंटली एबल्ड बच्चों के लिए भी फिजिकल एजुकेशन की स्पेशल कक्षाएं लगेंगी।

खेलों में ऐसे बच्चों को शामिल करने के लिए साइन लैंग्वेज, व्हीलचेयर आदि के उपयोग सहित कुछ तकनीकों का इस्तेमाल किया जाएगा। सीबीएसई ने बोर्ड की कक्षाओं में पढ़ने वाले उन विद्यार्थियों को भी राहत दी है जो खेल प्रतियोगिताओं और परीक्षाओं की तिथियां एक समय पर होने की वजह से स्पोर्ट्स से समझौता कर लेते थे। ऐसे विद्यार्थियों के लिए सीबीएसई ने अलग से परीक्षाएं आयोजित करने की बात कही है।

खिलाड़ी विद्यार्थियों के लिए अलग पॉलिसी
नेशनल, इंटरनेशनल और स्पोर्ट्स ऑथोरिटी ऑफ इंडिया से जुड़ी किसी भी खेल प्रतियोगिता में शामिल होने वाले विद्यार्थियों के लिए सीबीएसई एक पॉलिसी बना रहा है, ताकि यदि खेल प्रतियोगिताएं परीक्षा के दिनों में आयोजित की जाती हैं तो विद्यार्थी के लिए बाद में अलग से परीक्षा आयोजित कराई जा सके।

Updated On:
10 Sep 2019, 01:20:58 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।