चंद्र ग्रहण के समय पढ़ लें इन 10 में से कोई भी एक मंत्र, टल जाएगा ग्रहों का बुरा प्रभाव

By: Soma Roy

Published On:
Jul, 16 2019 04:16 PM IST

    • Chadra Grahan ke Mantra : साल 2019 का चंद्र ग्रहण 8 राशियों के लोगों के लिए है अशुभ
    • चंद्र ग्रहण के समय कुछ खास मंत्रों के जप से मुसीबतों से छुटकारा पा सकते हैं

नई दिल्ली। आज रात 1 बजकर 31 मिनट से चंद्रग्रहण ( lunar eclipse ) की शुरुआत होगी। जो 17 जुलाई की सुबह 4 बजकर 30 मिनट पर खत्म होगी। जबकि सूतक काल की शरुआत शाम साढ़े चार बजे से होगी। इस बार का चंद्र ग्रहण आठ राशियोें लिए अशुभ है। जिनमें वृषभ, कर्क, कन्या, तुला, वृश्चिक, मकर, कुंभ और मीन राशि के जातक हैं। ऐसे में ग्रहण के समय कुछ विशेष मंत्रों का जाप करने से आपकी सभी समस्याएं दूर हो सकती हैं। इससे ग्रहों के बुरे प्रभाव से भी बचा जा सकता है।

1.जो लोग उग्र ग्रहों के नकारात्मक प्रभाव से बचना चाहते हैं उन्हें ॐ ह्लीं बगलामुखी देव्यै सर्व दुष्टानाम वाचं मुखं पदम् स्तम्भय जिह्वाम कीलय-कीलय बुद्धिम विनाशाय ह्लीं ॐ नम:। मंत्र का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से आपको राहत मिलेगी।

एक ही दिन पड़ रहे हैं गुरू पूर्णिमा और चंद्र ग्रहण, सूतक काल शुरू होने से पहले ही कर लें ये 10 काम

2.आर्थिक तंगी या कर्ज से मुक्ति पाने के लिए ॐ ह्लीं दूं दूर्गाय: नम: मंत्र का जाप करें। इससे घर से दरिद्रता खत्म होगी और मां लक्ष्मी का वास होगा।

3.अगर आपका कोई कोर्ट केस चल रहा हो और आप उससे छुटकारा चाहते हैं तो चंद्र ग्रहण के समय ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद-प्रसीद श्रीं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:। मंत्र का जप करें, ऐसा करने से आपको कामयाबी मिलेगी।

4.जिन लोगों की नौकरी नहीं लग रही है या किसी कारणवश जॉब छूट जाती है तो उन्हें चंद्र ग्रहण के समय ॐ श्रीं ह्लीं क्लीं ऐं ॐ स्वाहा:। मंत्र का 108 बार जाप करना चाहिए। इससे सफलता मिलेगी।

5.दुश्मनों से बचने और जीत हासिल करने के लिए ॐ ह्लीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तंभय जिह्ववां कीलय बुद्धि विनाशय ह्लीं ओम् स्वाहा।। मंत्र का जाप करें। ऐसा करने से आपका काम जल्द ही बन जाएगा।

chand grahan 2019

6.जिन लोगों का मंगल ग्रह खराब है उन्हें ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम: मंत्र का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से मंगल दोष का नकारात्मक प्रभाव कम होगा।

7.जिन लोगों का काम बनते-बनते अटक जाता है उन्हें ॐ बुं बुधाय नमः मंत्र का जाप करना चाहिए। चंद्र ग्रहण के समय इस मंत्र के जाप से बुद्धि का विकास होता है। इससे मानसिक शांति भी मिलती है।

8.चंद्रमा के कमजोर होने से लोगों का स्वभाव चंचल होता है। उनका मन किसी एक काम में नहीं लगता है। अगर आप भी इन्हीं में से एक हैं तो चंद्र ग्रहण के दिन ॐ श्रां श्रीं श्रौं चंद्रमसे नम: मंत्र का 108 बार जाप करें। इससे आपकी परेशानी दूर होगी।

9.मंगल ग्रह के नकारात्मक प्रभाव से बचने के लिए चंद्र ग्रहण के समय ॐ क्रां क्रीं क्रौं स: भौमाय नम: मंत्र का जाप लाभकारी साबित होगा।

10.शनि देव के प्रकोप से बचने के लिए ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः मंत्र का जाप भी उपयोगी साबित होगा। इससे अटके हुए काम बनने लगेंगे।

Published On:
Jul, 16 2019 04:16 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।